पुणे. महाराष्ट्र के शिंगणापुर मंदिर में शनि देव की मूर्ति को एक महिला ने तेल चढ़ाया तो मंदिर परिसर ने मूर्ति को अपवित्र घोषित कर दिया. जानकारी के अनुसार 400 वर्ष पुरानी परंपरा के हिसाब से कोई महिला शनि देव को तेल नहीं चढ़ा सकती लेकिन एक महिला ने मंदिर के चबूतरे पर चढ़कर शनि देव को तेल चढ़ा दिया. हालांकि वहां और भी लोग मौजूद थे पर उन्होंने उसे ऐसा करने पर नहीं रोका.
 
मदिंर प्रशासन ने दी ये प्रतिक्रिया
महिला के तेल चढ़ाने की हरकत को सीसीटीवी कैमरे की वीडियो से देखा गया जिसके बाद मंदिर परिसर में हंगामा मच गया. इसके बाद 6 सेवादारों को निलंबित कर दिया गया है साथ ही भगवान की मूर्ति को अपवित्र भी घोषित कर दिया गया. दोष को दूर करने के लिए शनिदेव को दूध से नहलाया गया है और पूरे मंदिर को भी धुला गया. 
 
महिला ने मांगी माफी
महिला के तेल चढ़ाने के बाद वह वहा से निकल गई लेकिन विवाद के ज्यादा बढ़ जाने पर उसने माफी मांगी है और कहा कि उसे परंपरा के बारे में बिल्कुल भी जानकारी नहीं थी.