नई दिल्ली. विवादों में घिरे रहने वाले ‘राष्ट्रीय स्वंय सेवक संघ’ (आरएसएस) को महाराष्ट्र के पूर्व इंस्पेक्टर जनरल ऑफ पुलिस एस एम मुशरिफ ने देश का नंबर 1 आतंकी संगठन बोला है.  मुशरिफ का कहना है कि आरएसएस को किसी राजनीतिक शक्ति की जरुरत नहीं है, क्योंकि उन्हें इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि कौन सी पार्टी सत्ता में है. 
 
मुशरिफ ने लगाए ये आरोप
 
मुशरिफ ने दावा किया है कि देश के कम से कम 13 आतंकी हमलों में आरएसएस ने मुख्य भूमिका निभाई है. कार्यक्रम में उन्होंने कहा, ” ऐसे 13 आतंकी हमलों में जिनमें RDX का इस्तेमाल हुआ है उनमें आरएसएस पर अपनी गतिविधियों के चलते चार्ज शीट दाखिल की गई है साथ ही ये कहना गलत नहीं होगा कि आरएसएस भारत का नंबर 1 आतंकी संगठन है.” 
 
आरोप की लिस्ट में मुशरिफ ने बताया कि 2007 में हैदराबाद की मक्का मस्जिद हमला, माले गांव बम ब्लास्ट, और समझौता एक्सप्रेस जैसे हमलों में केसरिया दल RSS की ही हाथ था.