अमृतसर. जेल नियमों को ताक पर रखते हुए बैसाखी के अवसर पर तरनतारन जिले में भारत-पाक सीमा के पास स्थित पट्टी उप कारागार में महिला कलाकारों ने नृत्य कार्यक्रम पेश किया. 14 अप्रैल की घटना की पुष्टि करते हुए अमृतसर केंद्रीय कारागार के अधीक्षक आर. के. शर्मा ने बताया कि उन्होंने मामले में जांच की है और कारागार महानिदेशक आर. पी. मीणा के समक्ष रिपोर्ट पेश किया है.

शर्मा ने कहा कि पट्टी जेल के उपाधीक्षक दविंदर सिंह रंधावा ने इस तरह के आयोजन के लिए कभी वरिष्ठ अधिकारियों से अनुमति नहीं मांगी. उन्होंने जेल में कैद कई कट्टर अपराधियों के साथ मंच साझा किया. जांच में पता चला है कि उत्तेजक नृत्य करने के लिए कलाकारों को मोटी रकम दी गई थी.

IANS