नई दिल्ली: भारत और श्रीलंका के बीच दिल्ली के फिरोजशाह  कोटला स्टेडियम में तीसरा व अंतिम मैच खेला जा रहा है. इस मैच में श्रीलंकाई और भारतीय दोनों ही टीमें दिल्ली के प्रदूषण से परेशान नजर आ रही हैंं. श्रीलंकाई प्लेयर तीसरे टेस्ट के चौथे दिन भी फिरोजशाह कोटला मैदान पर मास्क पहनकर फिल्डिंग करने नजर आए. वहीं स्मॉग से श्रीलंकाई तेज गेंदबाज सुरंगा लकमल  इस कदर परेशान हुए कि उन्हें उल्टियां होने लगीं. इसके बाद जब भारतीय टीम गेंदबाजी करने आई तो भारतीय तेज गेंदबाज मुहम्मद शमी पारी के छठे ओवर में अपनी छाती पकड़कर बैठ गए और काफी तकलीफ में नजर आए. इसके बाद वो उल्टी करते दिखाई दिए. बता दें कि भारतीय टीम ने अपनी दूसरी पारी में 246 रन बनाने के बाद पारी घोषित कर दी थी. जिसके बाद टीम इंडिया का 12वां खिलाड़ी मेडिकल किट के साथ मैदान पर पहुंचा. कप्तान विराट कोहली ने इसके बाद जडेजा को गेंदबाजी पर लगा दिया. शमी ने दूसरी पारी में 3 ओवर डाल कर 1 विकेट झटका.  हालांकि, शमी को हुई परेशानी की वजह साफ नहीं हो सकी है.

इससे पहले गेंदबाज मुहम्मद शमी ने प्रदूषण के मुद्दे पर हुए बवाल पर अपनी नाराजगी जाहिर की थी. दिल्ली के कोटला मैदान पर खेले जा रहे तीसरे टेस्ट मैच के दूसरे दिन श्रीलंकाई खिलाड़ियों द्वारा की गई प्रदूषण की शिकायत पर शमी ने कहा था कि यह मुद्दा जितना था उससे कहीं ज्यादा बताया गया. शमी ने कहा कि भारतीय खिलाड़ियों को अब प्रदूषण की समस्या इतनी परेशान नहीं करती क्योंकि उन्हें इसकी आदत हो गई है.

भारत के खिलाफ तीसरे टेस्ट मैच में शतक जड़ने वाले श्रीलंकाई ऑलराउंडर एंजेलो मैथ्यूज ने कहा है कि प्रदूषण का स्तर कल की ही तरह था और शायद थोड़ा बुरा ही था. मैथ्यूज ने कहा कि यह काम मैच रैफरी का  है कि वे आईसीसी से बात करें. वैसे ये बहुत कम होने वाली घटनाओं में से है. हमें  पहले कभी इस तरह की स्थिति का सामना नहीं करना पड़ा. मैच रैफरी और ग्राउंड पर मौजूद अंपायर हैं और मुझे यकीन है कि वे इस बारे में आईसीसी से बात करेंगे. वहीं, भारतीय टीम के तेज

भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज के तीसरे और आखिरी मुकाबले के दूसरे दिन यहां के प्रदूषण पर चिंता व्यक्त करते हुए श्रीलंका के कोच निक पोथास ने कहा था कि स्मॉग से कुछ खिलाड़ियों को परेशानी का सामना करना पड़ा है. पोथास ने मीडिया से बात करते हुए कहा था कि यह किसी से छिपा नहीं है कि दिल्ली में प्रदूषण लेवल काफी अधिक है. उन्होंने कहा कि एक समय काफी बढ़ गया था, हमारा एक खिलाड़ी मैदान से उल्टी करते हुए बाहर आया. पोथस ने कहा कि वे टीम प्रबंधन से खिलाड़ियों के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए ड्रेसिंग रूम में ऑक्सीजन सिलेंडर रखने के निर्देश दिए गए.

चीफ सिलेक्टर एमएसके प्रसाद ने किया खुलासा, युवराज को इसलिए नहीं मिली टीम में जगह

Photos: भुवनेश्वर कुमार की शादी के रिसेप्शन में टीम इंडिया के खिलाड़ियों ने की शिरकत