कुआनतान. हरमनप्रीत सिंह की तरफ से पेनाल्टी कार्नर पर किए गए चार गोलों की बदौलत भारतीय जूनियर हॉकी टीम ने पाकिस्तान को फाइनल मुकाबले में 6-2 से करारी मात देते हुए आठवां जूनियर एशिया कप खिताब अपने नाम कर लिया है.

हरमनप्रीत ने इस मैच में एक बार फिर हैट्रिक लगाई है. इस टूर्नामेंट में उनकी ये दूसरी हैट्रिक है. हरमनप्रीत ने इस टूर्नामेंट में कुल 15 गोल किए और टूर्नामेंट के श्रेष्ठ खिलाड़ी के तौर पर उभरे. हरमनप्रीत के अलावा भारत के लिए अरमान कुरैशी ने 44वें और मनप्रीत जूनियर ने 50वें मिनट में गोल किए.

विस्मा बेलिया हॉकी स्टेडियम में हुए फाइनल मुकाबले में बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले हरमनप्रीत ने 10वें मिनट में ही भारत का खाता खोल दिया. हरमनप्रीत ने पेनाल्टी कॉर्नर पर यह गोल दागा. पांच मिनट बाद ही हरमनप्रीत ने दूसरा पेनाल्टी कॉर्नर भुनाते हुए भारत को 2-0 से बढ़त दिला दी.

इस बीच दूसरे क्वार्टर में पाकिस्तान के लिए मोहम्मद याकूब ने फील्ड गोल के जरिए 28वें मिनट में स्कोर 1-2 कर लिया. मध्यांतर के बाद भी भारतीय टीम की तेजी वैसी ही बनी रही। अरमान कुरैशी ने 44वें मिनट में फील्ड गोल कर भारत को 4-1 पर पहुंचा दिया था.