बर्लिन. फीफा ने जर्मनी पर रिश्वत देने का गंभीर आरोप लगाते हुए कहा है कि 2006 में हुए फीफा विश्वकप की मेजबानी हासिल करने के लिए जर्मनी ने फीफा के एग्जीक्यूटिव सदस्यों को रिश्वत दी थी. 
 
जर्मनी की एक मैगजीन ‘डर स्पीजेल’ के मुताबिक, फीफा की मेजबानी के लिए जर्मनी की तरफ से बोली लगाने वाली कमेटी ने एक करोड़ तीन लाख स्विस बैंक की धनराशि अवैध तरीके से खर्च करने के लिए ले रखी थी और इन पैसो को एडिडास के पूर्व प्रमुख रॉबर्ट लुई ड्रेफस ने निजी हैसियत से मुहैया कराई थी.
 
आपको बता दें कि इस पैसे का प्रयोग फीफा की 24 सदस्यीयों की एग्जीक्यूटिव कमेटी में एशिया के चार प्रतिनिधियों के वोट सुरक्षित करने के लिए किया गया था. इसके बाद ही जर्मनी को इस टूर्नामेंट की मेजबानी सौंपी गई थी.