कोलकाता. मौजूदा चैम्पियन कोलकाता नाइट राइडर्स ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के आठवें संस्करण के पहले ही मैच में कप्तान गौतम गंभीर (57) की नायाब अर्धशतकीय पारी की बदौलत मुंबई इंडियंस को सात विकेट से हरा दिया. मुंबई से मिले 169 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी नाइट राइडर्स ने तीन विकेट खोकर नौ गेंद शेष रहते 170 रन बना लिए और सात विकेट से जीत हासिल कर आईपीएल-8 का विजयी आगाज किया.

तीसरे ओवर की पांचवीं गेंद पर 13 रनों के कुल योग पर रोबिन उथप्पा (9) का विकेट गिरने के बाद गंभीर ने मनीष पांडेय (40) के साथ दूसरे विकेट के लिए मात्र 55 गेंदों पर 85 रनों की ताबड़तोड़ साझेदारी कर जीत की नींव रख दी. 24 गेंदों पर दो चौका और तीन छक्का लगाने के बाद मनीष हरभजन सिंह की गेंद पर कीरन पोलार्ड के हाथों लपके गए. गंभीर हालांकि शुरू से ही आक्रामक नजर आ रहे और इस बीच तेज शॉट खेलने के चक्कर में उनका एक बल्ला भी बीच से दो टुकड़े हो गया. गंभीर ने मनीष के साथ मैच में जो ऊर्जा झोंकी थी उसे मनीष के जाने के बाद युवा बल्लेबाज सूर्यकुमार यादव (नाबाद 46) ने बरकरार रखी. गंभीर ने अपनी अर्धशतकीय पारी में 43 गेंदों का सामना कर सात चौके और एक छक्का लगाया.

सूर्यकुमार ने यूसुफ पठान (नाबाद 14) के साथ चौथे विकेट के लिए 11.76 के औसत से नाबाद 44 रनों की साझेदारी कर टीम को जीत दिला दी. सूर्यकुमार ने इस बीच 20 गेंदों की अपनी तूफानी पारी में एक चौका और पांच गगनचुंबी छक्के लगाए. इनमें से एक छक्का मैच का सबसे लंबा 101 मीटर दूरी वाला भी रहा. मुंबई का कोई भी गेंदबाज प्रभावित नहीं कर सका. कोरी एंडरसन, जसप्रीत बुमराह और हरभजन को एक-एक विकेट मिले. इससे पहले, कप्तान रोहित शर्मा (नाबाद 98) और कोरी एंडरसन (नाबाद 55) के बीच हुई 131 रनों की नाबाद साझेदारी की बदौलत मुंबई इंडियंस ने इंडियन प्रीमियल लीग (आईपीएल) के आठवें संस्करण के पहले मैच में मौजूदा चैम्पियन कोलकाता नाइट राइडर्स के सामने जीत के लिए 169 रनों का लक्ष्य रखा है.

रोहित अपना शतक तो पूरा नहीं कर सके, लेकिन एंडरसन के साथ चौथे विकेट के लिए 14.4 ओवरों में 8.93 के औसत से रन जोड़कर उन्होंने टीम को 20 ओवरों में 168 रनों का बड़ा स्कोर जरूर दिला दिया. टॉस हारकर बल्लेबाजी करने उतरे मुंबई की शुरुआत अच्छी नहीं रही और सलामी बल्लेबाज एरॉन फिंच (5) दूसरे ओवर की तीसरी गेंद पर उमेश यादव को कैच थमा पवेलियन लौट गए. फिंच का विकेट मोर्ने मोर्कन ने लिया. आदित्य तारे (7) भी 37 के कुल योग पर शाकिब अल हसन का शिकार हो गए. तारे का कैच भी उमेश ने ही लपका. बेहद कसी हुई गेंदबाजी कर रहे मोर्कल ने अंबाती रायडू को खाता खोलने का मौका भी नहीं दिया और 37 के स्कोर पर ही मुंबई का तीसरा विकेट चटका दिया. इसके बाद लेकिन कप्तान रोहित और एंडरसन ने अंत तक कोई विकेट नहीं गिरने दिया और धुआंधार बल्लेबाजी करते हुए रन बटोरे रोहित ने 65 गेंदों का सामना कर 12 चौके और चार छक्के लगाए, जबकि एंडरसन ने 41 गेंदों में चार चौके और तीन छक्के जड़े.

नाइट राइडर्स के लिए मोर्केल सबसे सफल गेंदबाज रहे. उन्होंने चार ओवरों में 18 रन देकर दो विकेट चटकाए. पहले ओवर में केवल तीन रन देने वाले उमेश ने अगले दो ओवरों में 33 रन लुटा दिए. संदिग्ध गेंदबाजी ऐक्शन परीक्षा पास कर आईपीएल-8 में खेलने आए कैरेबियाई स्पिन गेंदबाज सुनील नरेन भी रोहित और एंडरसन के आगे प्रभावी गेंदबाजी नहीं कर सके और चार ओवरों में बिना कोई विकेट लिए 28 रन लुटाए.

IANS