न्यूयार्क. भारतीय टेनिस स्टार सानिया मिर्जा ने अपनी जोड़ीदार स्विटजरलैंड की मार्टिना हिंगिस के साथ मिलकर अमेरिकी ओपन का महिला युगल खिताब जीतकर इस सत्र में लगातार दूसरा और करियर का पांचवा ग्रैंडस्लैम अपने नाम कर लिया. यूएस ओपन की चैंपियन बनते ही सानिया-हिंगिस ने नंबर वन की कुर्सी पर भी कब्जा कर लिया है.
 
शीर्ष वरीयता प्राप्त भारतीय-स्विस जोड़ी ने फाइनल मुकाबले में शानदार खेल का प्रदर्शन करते हुए केसी डेल्लाक्वा और यारोस्लावा श्वेदोवा की चौथी वरीयता प्राप्त जोड़ी को सीधे सेटों में 6-3, 6-3 से हरा दिया. सानिया मिर्जा ने इस साल के अमेरिकी ओपन को भारतीयों के लिए यादगार बना दिया क्योंकि इससे पहले लिएंडर पेस ने मार्टिना हिंगिस के साथ मिलकर कल ही इस ग्रैंडस्लैम का मिश्रित युगल खिताब अपने नाम किया था. इससे पहले विम्बलडन में भी कुछ ऐसा दृश्य ही देखने को मिला था.
  
कजाखस्तान की श्वेदोवा और आस्ट्रेलिया की डेल्लाक्वा अपनी सर्विस बचाने के लिए जूझती रहीं जिससे सानिया और हिंगिस की जोड़ी के लिए मैच आसान हो गया. शीर्ष वरीय जोड़ी ने अपना दबदबा कायम रखते हुए महज 70 मिनट में मैच को खत्म कर दिया. कोर्ट के पीछे से सानिया का जमीनी स्ट्रोक और नेट पर हिंगिस की चपलता के सामने उनकी प्रतिद्वंद्वी जोड़ी नहीं टिक सकी. इससे पहले इसी सत्र में विम्बलडन के बाद सानिया और हिंगिस का यह लगातार दूसरा बड़ा खिताब है.