नई दिल्ली : भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी पी. वी. सिंधु ने रविवार को कोरिया ओपन बैडमिंटन टूर्नमेंट जीतकर नया इतिहास रचा दिया. सिंधु ने जापान की नोजोमी ओकुहारा को 22-20, 11-21, 21-18 से मात देकर कोरिया ओपन सुपर सीरीज़ पर कब्जा कर लिया.
 
इसके साथ ही पीवी सिंधु ने नोजोमी ओकुहारा से विश्व चैंपियनशिप में मिली हार का बदला ले लिया. साथ ही सिंधु कोरिया ओपन जीतने वाली पहला भारतीय खिलाड़ी बन गईं. 1991 से शुरू हुई इस प्रतियोगिता में अब तक किसी भारतीय को सफलता हाथ नहीं लगी थी. महिला एकल वर्ग में एक घंटे 24 मिनट तक चले मैच में सिंधु ने ओकुहारा को हराकर जीत हासिल की.
 
 
इससे पहले सिंधु ने महिला एकल वर्ग के सेमीफाइनल में शनिवार को सातवीं विश्व वरीयता प्राप्त हे बिंगजियाओ को मात दी थी. तीसरी विश्व वरीयता प्राप्त सिंधु ने एक घंटे छह मिनट तक चले मुकाबले में चीन की खिलाड़ी बिंगजियाओ को 21-10, 17-21, 21-16 से मात देकर खिताबी मुकाबले में प्रवेश किया.  
 
बता दें कि 2016 में चाइना ओपन और फिर 2017 में इंडिया ओपन के बाद अब कोरिया ओपन, सिंधु के तीनों ही खिताब ओलिंपिक रजत पदक के बाद आए हैं. सुपर सीरीज़ के अलावा सिंधु के अहम पदकों पर नजर डालें तो रियो में ऐतिहासिक रजत पदक के बाद उन्होंने ग्लासगो वर्ल्ड चैंपियनशिप में रजत जीता.