कराची. पाकिस्तान क्रिकेटर यूनिस खान ने एक इंटरव्यू के दौरान क़ुबूल किया है कि टेस्ट क्रिकेट बल्लेबाज के तौर पर उनके निखरने में भारत के महान बल्लेबाज राहुल द्रविड़ का बहुत बड़ा योगदान है. यूनिस ने कहा कि यदि वह पाकिस्तानी टीम में तीसरे नंबर पर दमदार बल्लेबाज बन सके हैं तो इसका श्रेय द्रविड़ को जाता है.

युनिस ने कहा कि अपने कैरियर की शुरूआत में द्रविड़ से मिली सलाह ने मुझे शीर्ष स्तरीय बल्लेबाज के रूप में निखरने में मदद मिली जो तीसरे नंबर पर अच्छा प्रदर्शन कर सके. यूनिस ने कहा कि उन्होंने एक दौरे पर और बाद में कई बार द्रविड़ से बल्लेबाजी तकनीक पर बात की और उनसे बहुत अच्छी सलाह मिली. द्रविड़ आला दर्जे के खिलाड़ी हैं और आधुनिक दौर के महान खिलाड़ियों में से एक है. मैने उससे बहुत कुछ सीखा है. उन्होंने पहली बार यह भी स्वीकार किया कि 2009 में कप्तानी छोड़ने का उनका फैसला गलत था.
 
युनिस ने बताया कि मुझे 2009 में जब कप्तान बनाया गया तब पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष एजाज बट ने मुझसे कहा था कि अच्छा प्रदर्शन नहीं करने पर मैं खुद इस्तीफा दे दूं. न्यूजीलैंड के खिलाफ 2009 में अबूधाबी में अच्छा प्रदर्शन नहीं करने के बाद मैने इस्तीफा देने का फैसला किया क्योंकि मुझे लगा कि मैं टीम को एकजुट नहीं कर पा रहा हूं लेकिन ऐसे समय पर राहुल से हुई बातचीत से मुझे काफी बल मिला.

एजेंसी