लंदन: स्विट्जरलैंड के स्टार टेनिस खिलाड़ी रोजर फेडरर ने रविवार को आठवीं बार विंबलडन खिताब अपने नाम कर लिया है. फेडरर ने कोएशिया के मारिन सिलिक को 6-3, 6-1, 6-4  से हराते हुए साल के तीसरे ग्रैंड स्लैम विंबलडन का पुरुष एकल खिताब जीत लिया है. इस जीत के साथ ही रोजर फेडरर ने 19वें ग्रैंड स्लैम पर कब्जा करने का नया कारनाम कर दिखाया है.
 
साथ ही 8वां विंबलडन टाइटल हासिल कर पूर्व अमेरिकी दिग्गज पीट सैंप्रास को पीछे छोड़ दिया है. पहली बार विंबलडन फाइनल में खेलने उतरे फेडरर को सिलिक को हराने में ज्यादा मशक्कत नहीं करनी पड़ी. 2014 से 16 के बीच तीन बार विंबलडन क्वॉर्टर फाइनल में पहुंचकर हारने वाले सिलिक ने पहली बार इस प्रतियोगिता के फाइनल में जगह बनाई थी लेकिन बाकी खिलाड़ियों की तरह सिलिक को भी फेडरर के हाथों हार का समाना करना पड़ा.
 
 
दूसरी ओर, फेडरर विंबलडन में अपना 11वां फाइनल खेलते हुए एक बार फिर जीत हासिल की. फेडरर 2014, 2015 में भी फाइनल में पहुंचे थे लेकिन वे सर्बिया के नोवाक जोकोविक के हाथों हार गए. जबकि 2016 में वह सेमीफाइनल में कनाडा के मिलोस राओनिक के हाथों हार गए थे. 
 
आज के खेल पर नजर डाले तो शुरुआत में सिलिक ने अच्छा खेल खेला और 2-2 की बराबरी पर पहुंच गए. लेकिन बाद में फेडरर ने अच्छा खेल दिखाते हुए यह सेट 6-3 से अपने नाम कर लिया. दूसरा सेट सिलिक के लिए निराशाजनक साबित हुआ. फेडरर ने हर बार की तरह इस बार भी शानदार खेल दिखाते हुए यह सेट 6-1 से जीत लिया.
 
 
तीसरे और निर्णायक सेट में सिलिक ने अच्छी शुरुआत की लेकिन बाद में फेडरर के आगे बेबस नजर आए और फेडरर ने मौच को जीत लिया. बता दें कि फेडरर ने इससे पहले 2003, 2004, 2005, 2006, 2007, 2009 और 2012 में चैंपियन बन चुके थे. इस खिताब के साथ फेडरर पांच बार ऑस्ट्रेलियन ओपन और एक बार फ्रेंच ओपन और 5 बार यूएस ओपन खिताब अपने नाम कर चुके हैं.