मुंबई. बीसीसीआई जीत हासिल करने पर भारतीय टीम की ओर से खेलने वाले पुरुष खिलाड़ियों पर पैसों की बारिश कर देती है, लेकिन न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज जीतने वाली भारतीय महिला क्रिकेट टीम को मात्र 21 लाख रुपए दिया. आपको बता दें कि बुधवार को मिताली राज की कप्तानी में भारतीय महिला टीम ने न्यूजीलैंड को पांच वनडे मैचों की सीरीज में 3-2 से हराया.

अक्सर सुनने में आता है कि हर खेल में महिला खिलाड़ियों को जीतने पर मिलने वाली ईनामी राशि पुरुषों के मुकाबले काफी कम होती है. 2009 में जब भारतीय पुरुष टीम ने टेस्ट में नंबर वन का ताज हासिल किया था तब बीसीसीआई ने प्रत्येक खिलाड़ीक को 25-25 लाख रुपए दिए थे. इसके अलावा 2011 में धोनी की कप्तानी में वर्ल्ड कप और 2013 में चैंपियंस ट्रॉफी जीतने वाली टीम के प्रत्येक सदस्य को 1-1 करोड़ रुपए दिए गए थे.  

इसके अलावा बीसीसीआई पुरुष खिलाड़ियों की तरह महिला खिलाड़ियों को फिलहाल सालाना कॉन्ट्रैक्ट पर नहीं रखती है. इस समय बीसीसीआई ने भारतीय पुरुष टीम के 32 खिलाड़ियों को सालाना वेतन पर रखा है. यहां खिलाड़ियों को तीन श्रेणी में बांटा गया है. जिसमें ‘ए’ ग्रेड में शामिल खिलाड़ी को 1 करोड़ रुपए, ‘बी’ ग्रेड में शामिल खिलाड़ी को 50 लाख रुपए और ‘सी’ ग्रेड में शामिल खिलाड़ी को 25 लाख रुपए दिया जाता है.  

गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन की बदौलत भारतीय महिला टीम ने आखिरी और निर्णायक मैच में न्यूजीलैंड को 9 विकेट से हरा दिया. टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी न्यूजीलैंड की टीम मात्र 118 रनों पर ऑलआउट हो गई. जवाब में सलामी बल्लेबाज कामिनी (62) और दीप्ति शर्मा (44) की नाबाद पारियों के बदौलत भारत ने 27.2 ओवरों में एक विकेट खोकर जीत हासिल की. इसके साथ ही पांच वनडे मैचों की सीरीज भारत ने 3-2 से जीत ली.