सिडनी. आईसीसी विश्व कप-2015 के दूसरे सेमीफाइनल मैच में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 95 रनों से हरा दिया है. इस तरह ऑस्ट्रेलिया 2015 के वर्ल्ड कप के फाइनल में पहुंचनेवाली दूसरी टीम बन गई है जो 29 मार्च को फाइनल में न्यूजीलैंड से भिड़ेगी. ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बैटिंग करते हुए टीम इंडिया को 328 रनों की चुनौती दी थी. भारत की तरफ से सबसे ज्यादा रन कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने बनाए जो 65 रन बनाकर रन-आउट हो गए.

जबकि कंगारुओं की ओर से जेम्स फॉकनर ने तीन, मिशेल स्टार्क व मिचेल जॉनसन ने दो-दो तथा जोश हेज़लवुड ने एक विकेट चटकाया, जबकि दो भारतीय बल्लेबाज रनआउट हुए. इससे पहले, टीम इंडिया की फाइनल में पहुंच पाने की बेहद धूमिल उम्मीदें उस समय चकनाचूर हो गई थीं, जब विपरीत परिस्थितियों में जुझारू पारी खेल रहे कप्तान महेंद्र सिंह धोनी भी रनआउट होकर पैवेलियन लौट गए.

इससे पहले, कुछ ही ओवरों के भीतर लगे चार झटकों से भारतीय टीम कुछ हद तक उबरती दिखाई दे रही थी और अजिंक्य रहाणे के साथ मिलकर कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने पांचवें विकेट के लिए 70 रन की साझेदारी कर ली थी कि अचानक मिशेल स्टार्क की गेंद पर विकेट के पीछे हैडिन ने एक गेंद लपकी, जिसे अपील के बाद अम्पायर ने नॉट आउट बताया, लेकिन कंगारू कप्तान माइकल क्लार्क ने रिव्यू की मांग की, जो कामयाब रही, और मैदानी अम्पायर के फैसले को पलटकर अजिंक्य रहाणे को आउट करार दे दिया गया. इसके बाद आए रवींद्र जडेजा भी ज़्यादा देर नहीं टिक पाए, और उसके कुछ ही देर बाद दुर्भाग्यपूर्ण तरीके एक बेहद शानदार डायरेक्ट थ्रो के परिणामस्वरूप धोनी भी पैवेलियन लौट गए.