मीरपुर. मुस्ताफिजुर रहमान (43/6) की शानदार गेंदबाजी और शाकिब हल हसन (51 नाबाद) की धैर्यपूर्ण पारी की बदौलत बांग्लादेश ने दूसरे एकदिवसीय मैच में भारत को छह विकेट से हरा दिया. इसके साथ ही मेजबान टीम ने तीन मैचों की श्रृंखला में 2-0 की अपराजित बढ़त भी प्राप्त कर ली है. भारत को पहली बार बांग्लादेश के खिलाफ किसी एकदिवसीय श्रृंखला में हार का सामना करना पड़ा है.

वर्षा से बाधित इस मैच में मेजबान बांग्लदेश को 47 ओवरों में 199 रनों का संशोधित लक्ष्य मिला था जिसे टीम ने 38 ओवरों में केवल चार विकेट खोकर हासिल किया. हरफनमौला खिलाड़ी शाकिब ने 62 गेंदों की नाबाद पारी में पांच चौके लगाए. सब्बीर रहमान भी 22 रनों के साथ नाबाद लौटे. टीम की जीत में हालांकि सबसे अहम भूमिका ‘मैन ऑफ द मैच’ चुने गए बांग्लादेश के तेज गेंदबाज मुस्ताफिजुर रहमान ने निभाई. पहले एकदिवसीय में पांच विकेट चटकाने वाले मुस्ताफिजुर ने यहां भी छह विकेट हासिल किए जिसकी बदौलत भारतीय टीम पहले बल्लेबाजी करते हुए 45 ओवरों में 200 रनों पर सिमट गई.

इससे पूर्व, भारतीय टीम टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 45 ओवर में केवल 200 रन बनाकर सिमट गई. डकवर्थ लुइस नियम के अनुसार हालांकि बांग्लादेश को 199 रनों का संशोधित लक्ष्य मिला. पहले मैच के हीरो रहे बांग्लादेश के मुस्ताफिजुर (43/6) की उम्दा गेंदबाजी ने मजबूत भारतीय बल्लेबाजी को एक बार फिर धराशायी किया. नासिर हुसैन और रुबेल हुसैन ने दो-दो विकेट हासिल किए.

भारत की शुरुआत खराब रही। पारी की दूसरी ही गेंद पर मुस्ताफिजुर ने रोहित शर्मा को सब्बीर हुसैन के हाथों कैच करा कर मेजबान मेजबान टीम को सनसनीखेज शुरुआत दिलाई. इसके बाद शिखर धवन (53) और विराट कोहली (23) ने मिलकर भारतीय पारी को संवारने की कोशिश की और दूसरे विकेट के लिए 74 रन जोड़ने में कामयाब रहे.

नासिर हुसैन ने यहां कोहली को पगबाधा कर भारत को दूसरा झटका दिया. कोहली ने 27 गेंदों में तीन चौके और एक छक्का लगाया. भारतीय पारी के 21वें ओवर में हुसैन ने धवन को भी विकेटकीपर लिटन दास के हाथों कैच कराया. धवन ने 60 गेंदों की पारी में सात चौके लगाए.