ओवल. केन विलियमसन (93) और रॉस टेलर (119) के शानदार प्रदर्शन की बदौलत न्यूजीलैंड ने शुक्रवार को ओवल में खेले गए दूसरे एकदिवसीय में इंग्लैंड को 13 रनों से हराकर सीरीज में 1-1 से बराबरी कर ली. इंग्लैंड की गेंदबाजी को प्रभावहीन साबित करते हुए निर्धारित 50 ओवरों में पांच विकेट के नुकसान पर 398 रन बना डाले. 

जवाब में इंग्लैंड की टीम 46 ओवरों में 9 विकेट खोकर 365 रन ही बना सकी. डकवर्थ-लुइस के आधार पर इंग्लैंड को 13 रनों से हार का सामना करना पड़ा. इस जीत के साथ न्यूजीलैंड ने वनडे में अपनी 300वीं जीत पूरी की. इंग्लैंड के कप्तान मॉर्गन ने 47 गेंदों में 88 रनों की धमाकेदार पारी खेली, लेकिन टीम को जीत नहीं दिला सके. हालांकि, वनडे क्रिकेट में पहली बार इंग्लैंड की टीम ने दूसरी बार बैटिंग करते हुए इतना बड़ा स्कोर खड़ा किया. 

इससे पहले रॉस टेलर के नाबाद शतक (119) और केन विलियमसन (93) की धमाकेदार पारियों की मदद से न्यूजीलैंड ने पांच विकेट पर 398 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया. कीवी कप्तान ब्रेंडन मैकुलम ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया और 22 गेंदों पर 39 रनों की तेजतर्रार पारी खेलकर बड़े स्कोर की नींव डाली. 

टेलर ने 87 गेंद पर अपना 13वां शतक पूरा किया. टेलर ने अपनी पूरी पारी में 96 गेंदों का सामना करते हुए 10 चौके और चार छक्के लगाए. आखिरी ओवरों में ल्यूक रोंची ने 16 गेंद पर 33 और ग्र्रांट एलियट ने 15 गेंदों पर 32 रन की पारी खेली, इसके बावजूद न्यूजीलैंड सीरीज के पहले वनडे में इंग्लैंड द्वारा बनाए गए 408 रन के स्कोर से 10 रन पीछे रह गया.

हालांकि वह वनडे क्रिकेट में अपना दूसरा सर्वोच्च स्कोर बनाने में सफल रहा. वनडे में न्यूजीलैंड का सर्वोच्च स्कोर 402/2 है, जो उसने 2008 में आयरलैंड के खिलाफ बनाया था.