फातुल्लाह. भारतीय क्रिकेट टीम ने बारिश के व्यवधान के बीच टेस्ट के तीसरे दिन खेल खत्म होने तक छह विकेट के नुकसान पर 462 रन बना लिए. बारिश के कारण दूसरे दिन मैच में कोई भी गेंद नहीं फेंकी जा सकी थी जबकि तीसरे दिन भी केवल 47.3 ओवरों का ही खेल हो सका. रविचंद्रन अश्विन दो और हरभजन सिंह सात रन बनाकर नाबाद लौटे. बारिश के खलल के बीच तीसरे दिन मुरली विजय (150) और अजिंक्य रहाणे (98) ने शानदार पारियां खेली. 

विजय के बल्ले से उनके करियर का छठा शतक निकला जबकि रहाणे अपने चौथे शतक से चूक गए. पहले दिन के बिना किसी नुकसान के 239 रनों से आगे खेलने उतरी भारतीय टीम को दिन का पहला झटका 283 रनों के कुल योग पर शिखर धवन (173) के रूप में लगा. धवन ने 195 गेंदों की पारी में 23 चौके लगाए. पहले दिन धवन 150 रनों पर नाबाद लौटे थे. धवन को हरफनमौला खिलाड़ी शाकिब अल हसन ने पवेलियन भेजा. 

शाकिब ने इसके बाद जल्द ही रोहित शर्मा (6) को भी बोल्ड कर भारत को दूसरा झटका दिया. कप्तान विराट कोहली भी (14) पहले ही सत्र में तीसरे विकेट के रूप में जुबैर हुसैन का शिकार हुए. इसके बाद विजय और अजिंक्य रहाणे (98) ने चौथे विकेट के लिए 114 रनों की साझेदारी कर भारत को विशाल स्कोर की ओर अग्रसर किया. यहां भी शाकिब ने विजय को पगबाधा कर इस जोड़ी को तोड़ा.

विजय ने 272 गेंदों की पारी में 12 चौके और एक छक्का लगाया. विजय के बाद रिद्धिमान साहा (6) जुबैर हुसैन का शिकार हुए और पांचवें बल्लेबाज के रूप में पवेलियन लौटे. शाकिब ने अपने टेस्ट करियर के चौथे शतक की ओर से बढ़ रहे रहाणे को बोल्ड कर भारत को छठा झटका दिया. रहाणे ने 103 गेंदों की पारी में 14 चौके लगाए. शाकिब ने बांग्लादेश में अपना 100वां विकेट हासिल किया. शाकिब अब तक चार जबकि जुबैर हुसैन दो विकेट हासिल कर चुके हैं.