बर्मिंघम. जोस बटसर और जो रूट की धमाकेदार पारी की बदौलत बर्मिंघम में खेले गए पहले वनडे मुकाबले में इंग्लैंड ने न्यूज़ीलैंड को रिकॉर्ड 210 रनों से हरा दिया. बटलर के 129 रन की मदद से इंग्लैंड ने कीवियों के खिलाफ नौ विकेट पर रिकार्ड 408 रन का स्कोर बना लिया. जवाब में न्यूज़ीलैंड का की टीम महज़ 198 रनों पर सिमट गई. इंग्लैंड की ओर से फिन और रशीद ने चार-चार विकेट झटके.  

पहले बल्लेबाजी करते हुए इंग्लैंड ने वनडे मुकाबलों में अपना सर्वोच्च स्कोर बनाया. इससे पहले इंग्लैंड ने 2005 में ट्रेंट ब्रिज में बांग्लादेश के खिलाफ 391 रन का स्कोर खड़ा किया था. जोस बटलर और आदिल रशीद (69) के बीच सातवें विकेट के लिए 177 रनों की साझेदारी हुई. सातवें विकेट के लिए ये वनडे क्रिकेट की सबसे बड़ी साझेदारी है. इससे पहले ये रिकॉर्ड जिंबाब्वे के एंडी फ्लावर और हीथ स्ट्रीक के नाम था जिन्होंने 2001 में सातवें विकेट के लिए 130 रन बनाए थे.

बटलर ने सिर्फ 66 गेंदों में अपना शतक पूरा किया. ये इंग्लैंड की ओर से दूसरा सबसे तेज शतक रहा. सबसे तेज शतक का रिकॉर्ड भी बटलर के नाम है जिन्होंने 61 गेंदों पर शतक बनाया था. 210 रनों की जीत इंग्लैंड के वनडे इतिहास में रनों के हिसाब से सबसे बड़ी जीत है. इससे पहले टीम ने 1975 में भारत को 202 रन से हराया था जो की टीम की सबसे बड़ी जीत थी.