इंदौर. भारत और न्यूजीलैंड के बीच तीसरे और अंतिम टेस्ट मैच के चौथे दिन का खेल शुरु हो चुका है. समाचार लिखे जाने तक भारतीय टीम ने तीसरे दिन के स्कोर 18 रन से आगे खेलते हुए एक विकेट के नुकसान पर 93 रन बना लिये हैं. भारत का एकमात्र विकेट मुरली विजय के रुप में गिरा, जोकि रन आउट हुए. क्रीज पर गौतम गंभीर 42 रन और पुजारा 29 रन बनाकर मौजूद हैं.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
इससे पहले मैच का तीसरा दिन आफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन के नाम रहा. अपनी जादुई गेंदबाजी करते हुए 6 विकेट लिये और न्यूजीलैंड को सस्ते में समेटने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई.  भारत ने पहली पारी में 258 रन की बडी बढत हासिल करके तीसरे और अंतिम टेस्ट क्रिकेट मैच पर अपना शिकंजा कस दिया.
 
अश्विन ने 81 रन देकर छह विकेट लिये और इस तरह से अपने करियर में 20वीं बार पारी में पांच या इससे अधिक विकेट लेने का कारनामा किया. उन्होंने बीच में करिश्माई स्पैल करके न्यूजीलैंड के मध्यक्रम को झकझोरा और आखिर में उसकी टीम को 299 रन पर समेटने में अहम भूमिका निभायी.
 
भारतीय बल्लेबाजी के दौरान कीवी टीम को 5 रन अतिरिक्त दिए गए, क्योंकि रवींद्र जडेजा ने बल्लेबाजी के दौरान पिच के डेंजर एरिया में दौड़ लगा दी. उन्होंने ऐसा 4 बार किया और उन्हें 2 आधिकारिक चेतावनी मिली, जिससे अंपायर ने 5 रन की पेनल्टी लगा दी. इस प्रकार न्यूजीलैंड ने 0 की बजाय 5 रन से अपनी पारी की शुरुआत की.
 
बता दें कि न्यूज़ीलैंड की पहली पारी की शुरुआत काफी मजबूत हुई थी और एक समय कीवी टीम ने बिना किसी नुकसान पर 100 रन बनाकर खेल रही थी. लेकिन फिर अश्विन की फिरकी में मेहमान टीम के बल्लेबाज ऐसे उलझे कि एक के बाद एक पॅवेलियन लौट गए. अश्विन ने 6 कीवी बल्लेबाजो को अपना शिकार बनाया वही जडेजा ने भी दो विकेट हासिल किए जिसकी बदौलत भारत ने न्यूज़ीलैंड को 299 पर समेट दिया.