कानपुर. भारत और न्यूजीलैंड के बीच कानपुर के ग्रीनपार्क में चल रहे मैच में भारत ने पहले दिन 300 रनों के स्कोर से पहले ही 9 विकेट खो दिए है. भारतीय क्रिकेट इतिहास के 500वें टेस्ट में बल्लेबाज फ्लॉप होते दिखाई दिए हैं. पहले दिन के खेल खतम होने तक भारत का स्कोर 9 विकेटों के नुकसान पर 291 रन है. मोहम्मद शमी के रूप में भारत को 277 रनों के स्कोर पर 9वां झटका लगा.फिलहाल क्रीज पर उमेश यादव और रविंद्र जड़ेजा डटे हुए है.
 
ख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
बल्लेबाजों के फ्लॉप होने के बाद कानपुर की पिच पर अब स्पिनर से उम्मीद की जा सकती है. स्पिनर अपनी फिरकी के जाल में न्यूजीलैंड के खिलाड़ियों को फंसा कर मैच पर टीम की पकड़ मजबूत कर सकते है. स्पिनर में अश्विन ,मिश्रा और जड़ेजा अहम भूमिका निभा सकते हैं. यह मैच भारत के लिए काफी मायनों में खास भी है. जानिए कैसे.
 
रिकॉर्ड
 
रिकॉर्ड के लिहाज से इस ऐतिहासिक 500वें टेस्ट मैच से पहले दोनों देशों के बीच खेले गए टेस्ट मैचों में भारतीय टीम का पलड़ा भारी रहा है. भारत-न्यूजीलैंड के बीच अब तक 54 टेस्ट मैच हुए है, जिसमें टीम इंडिया को 18 और न्यूजीलैंड को 10 मैचों में जीत मिली हैं. 26 टेस्ट मैच ड्रॉ हुए हैं. 
 
रैंकिंग
 
अगर दोनों टीमों की रैंकिंग की बात करे तो इसमें भी टीम इंडिया का पलड़ा भारी है. आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में टीम इंडिया दूसरे स्थान पर है, इसके 110 प्वाइंट्स है, वहीं, न्यूजीलैंड टीम 95 प्वाइंट के साथ 7वें नंबर पर है.
 
पिच
 
ग्रीन पार्क की पिच हमेशा से स्पिनरों की मददगार रही है. इस पिच पर अमित मिश्रा, आर. अश्विन और रवींद्र जडेजा की स्पिन तिकड़ी कीवी टीम को धूल चटा सकती है.