ज्युरिख. फुटबॉल मैचों के मीडिया राइट्स में घूस के लेन-देन की बढ़ती जांच के बीच अंतरराष्ट्रीय फुटबॉल महासंघ फीफा के अध्यक्ष सेप ब्लाटर ने पद छोड़ने की घोषणा कर दी है. ब्लाटर पिछले हफ्ते ही लगातार पांचवी बार फीफा के अध्यक्ष चुने गए थे. इस पद पर वो 1998 से बने हुए थे.

मंगलवार को ब्लाटर ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि वो फीफा अध्यक्ष पद पर दोबारा चुनाव के लिए स्पेशल कांग्रेस बुलाएंगे और चुनाव में खड़ा नहीं होंगे. माना जा रहा है कि फीफा कांग्रेस इस साल के अंत तक या अगले साल की शुरुआत में बुलाई जा सकती है.

घूसकांड में आया फीफा महासचिव का नाम

अमेरिकी जांच में मंगवार को फीफा महासचिव जेरोम वाल्के का नाम सामने आया जिसके बाद ब्लाटर पर इस्तीफे का दबाव बढ़ गया था. जांच में लगे अधिकारी 2008 में वाल्के द्वारा एक दूसरे फीफा अधिकारी जैक वार्नर को 10 मिलियन डॉलर ट्रांसफर करने को घूस कांड में अहम मान रहे हैं. हालांकि फीफा ने बयान जारी करके कहा है कि इस पैसे को फीफा की फिनांस कमिटी के प्रमुख की मंजूरी के बाद फीफा के नियमों के तहत ट्रांसफर किया गया था.

अमेरिका ने फुटबॉल मैचों के मीडिया राइट्स अवार्ड करने में 150 मिलियन डॉलर के घूसकांड का खुलासा किया है. इस मामले में अभी तक फीफा के दो उपाध्यक्ष समेत 7 अधिकारियों को गिरफ्तार किया जा चुका है. अमेरिकी जांच एजेंसियों ने 14 लोगों को आरोपी बनाया है.

संबंधित खबरें