नई दिल्ली. ब्राजील के रियो शहर में 17 दिन बाद 31वें ओलंपिक खेलों का रविवार को रंगारंग समापन हो गया. क्लोजिंग सेरेमनी ऐतिहासिक मारकाना स्टेडियम में हुई. मेडल टैली में भारत एक कांस्य और एक रजत पदक के साथ 67वें स्थान पर रहा, जबकि सबसे अधि‍क 121 मेडल के साथ अमेरिका ने शीर्ष स्थान हासिल किया. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
रियो ओलंपिक में भारत का प्रदर्शन बेहद निराशाजनक रहा. इस बार रियो में 119 खिलाड़ियों का दल भेजा गया था, जिसमें भारत को सिर्फ 2 मेडल मिले. रियो में सिर्फ पीवी सिंधू (सिल्वर) और साक्षी मलिक (ब्रॉन्ज) ही मेडल जीत पाईं. दो मेडल के साथ भारत को ओलंपिक की मेडल लिस्ट में 67वां स्थान मिला.
 
अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) के अध्यक्ष थामस बाक ने माराकाना स्टेडियम में टोक्यो में 2020 में मिलने के वादे के साथ इन खेलों का समापन किया. टोक्यो को 2020 ओलंपिक की मेजबानी दी गई है. समापन समारोह में भारत की तरफ से रेसलिंग में रजद पदक जीतने वाली साक्षी मलिक भारतीय ध्वज लेकर स्टेडियम में दाखिल हुईं. पीवी सिंधू स्वदेश वापस लौट चुकी हैं और इसी वजह से वो इस इवेंट का हिस्सा नहीं बनीं.