रियो डी जेनेरियो. रफ्तार के बादशाह उसेन बोल्ट ने रियो में एक और चमत्कार कर दिखाया. लगातार तीसरी बार ओलंपिक में 200 मीटर स्पर्धा का स्वर्ण जीतकर इतिहास रच दिया. उसेन बोल्ट लगातार तीन बार ओलंपिक में 100 और 200 मीटर का गोल्ड जीतने वाले दुनिया के पहले एथलीट बन गए हैं. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
बोल्ट ने 19.78 सेकेंड में रेस पूरी करके गोल्ड पर कब्जा जमाया. बोल्ट का यह आठवां गोल्ड मेडल है. कनाडा के आंद्रे दे ग्रास ने 20.02 सेकेंड के साथ रजत और यूरोपीयन चैम्पियन फ्रांस के किस्टोफर लेमेट्रे ने 20.12 सेकेंड के साथ कांस्य जीता.
 
बोल्ट ने इसके पहले बीजिंग (2008) और लंदन (2012) ओलम्पिक खेलों में 100 तथा 200 मीटर का स्वर्ण जीता था. बीते दिनों बोल्ट ने रियो में 100 मीटर का स्वर्ण जीतते हुए गोल्डन डबल की ओर एक बड़ा कदम बढ़ाया था और अब उसे हासिल भी कर लिया है.
 
बोल्ट ने बीजिंग और लंदन में 4 गुणा 100 मीटर का भी स्वर्ण जीता था. अब बोल्ट की नजर ‘ट्रिपल-ट्रिपल’ पर है. जमैका की टीम इस रेस के फाइनल में पहुंच चुकी है.