नई दिल्ली. आज भारतीय पुरुष हॉकी टीम जर्मनी के सामने 2-1 से हार गयी.  आखरी क्वार्टर तक भारत और जर्मनी का स्कोर 1-1 से बराबर था. लेकिन अंतिम क्षणों में जर्मनी ने भारत पर 2- 1 से बढ़त बना ली. संभावनाओं के विपरीत भारतीय टीम जर्मनी के खिलाफ बेहद अच्छा प्रदर्शन कर रही थी.  
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
इससे पहले भारत का पहला मुकाबला आयरलैंड से हुआ था जिसमें भारत ने आयरलैंड को 3-2 से हरा दिया था, लेकिन आज के मैच में आखिरी 52 सेकेंड में जर्मनी ने गोल दागकर भारत के विजय रथ को रोक दिया.
 
पहले क्वाटर में तो दोनों ही टीमों में से कोई भी गोल करने में कामयाब ना हो सका. दूसरे क्वाटर के 18वें मिनट में जर्मनी के निक्लास वेलेन ने फील्ड गोल करके जर्मनी को 1-0 से बढ़त दिला दी थी. इसके बाद दूसरे क्वाटर में भारत ने 23वें मिनट पर पैनल्टी कार्नर हासिल कर स्कोर 1-1 से बराबर कर लिया. यह गोल रुपिंदर पाल सिंह की ओर से किया गया. 
 
तीसरे क्वाटर में मुकाबला जोरदार रहा लेकिन कोई टीम गोल करने में कामयाब ना हो पाई. एक मौके पर रुपिंदर सिंह गोल कर सकते थे लेकिन उनके द्वारा गोल की ओर फ्लिक करने पर गोल कीपर ने खूबसूरती से गोल बचा लिया. 
 
चौथे क्वाटर के अंतिम दो मिनट तक भारत और जर्मनी का स्कोर बराबर था. इब पलों में भारत ने आक्रमण करने की भरपूर कोशिश की लेकिन कामयाब नहीं हो पाई. वहीं जर्मनी के क्रिस्टोफर रुर ने जवाबी हमला करते हुए गेंद को गोल पोस्ट में पहुंचा दी और भारतीय गोलकीपर और कप्तान श्रीजेश कोशिश करने के बावजूद गोल को रोक ना सके.