रियो डी जेनेरियो. रविवार को भारतीय महिला तीरंदाज़ी टीम ओलम्पिक खेलों की टीम स्पर्धा के क्वार्टर फाइनल में अहम क्षणों में अपना धैर्य खो बैठी और रूस के हाथों हार का सामना करना पडा. रूस ने भारतीय टीम को शूटआउट में हराया, जिससे भारत की पदक की उम्मीदों पर पानी फिर गया.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
क्वार्टर फाइनल मुकाबले में भारतीय टीम ने शूटआउट में 23 अंक हासिल किए, जबकि पेरोवा की अगुवाई में रूसी टीम ने 25 अंक हासिल कर जीत हासिल की. भारतीय टीम ने शुरुआत तो अच्छी की, लेकिन पूर्व सर्वोच्च विश्व वरीय स्टार भारतीय तीरंदाज दीपिका कुमारी ने विशेष तौर पर निराश किया. रूसी टीम पहला सेट 55-48 से जीतने में सफल रही. भारतीय टीम ने इसके बाद बेहतरीन वापसी की और अगले दोनों सेट 53-52 और 53-50 से जीतकर मैच में 4-2 की बढ़त हासिल कर ली थी. 
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
चौथे सेट में रूसी टीम ने बेहद कांटे के मुकाबले में 55-54 से जीत हासिल कर मैच में बराबरी हासिल कर ली, जिससे मैच शूटआउट में चला गया. भारतीय टीम के लिए क्वार्टर फाइनल मुकाबले में लैशराम बोम्बेला देवी ने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया और लगातार तीन निशाने पर मारे. लेकिन पहली बार ओलम्पिक खेल रहीं लक्ष्मीरानी माझी और दीपिका के निराशाजनक प्रदर्शन का खामियाजा भारत को भुगतना पड़ा.