पेरिस. यूरो फुटबॉल कप का फाइनल मुकाबला रविवार को मेजबान टीम फ्रांस और पुर्तगाल के बीच होगा. विशेषज्ञों के मुताबिक आज के इस खिताबी भिड़ंत में फ्रांस का पलड़ा भारी रहने वाला है. वैसे भी पिछले 41 सालों से पुर्तगाल फ्रांस को नहीं हरा सका है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
बता दें कि क्रिस्टियानो रोनाल्डो की जबरदस्त फॉर्म की बदौलत जर्मनी को हराकर फ्रांस ने फाइनल में प्रवेश किया है और अब उसकी नजरें 1984 यूरो चैम्पियनशिप और 1998 विश्व कप के बाद अपनी सरजमीं पर तीसरा बड़ा खिताब जीतने पर है.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
वहीं पुर्तगाल के लिए मैच बेहद ही खास है, क्योंकि यूरो कप में इससे पहले सिर्फ एक बार ही पुर्तगाल फाइनल तक पहुंचा है. 2004 में हुए उस फाइनल मैच में ग्रीस ने पुर्तगाल को 1-0 से हराकर खिताब से रोक दिया था.