मुंबई. दुनिया भर में क्रिकेट को चलाने वाली संस्था, इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल वन-डे क्रिकेट में बड़े बदलाव की तैयारी में है. मुंबई में आईसीसी क्रिकेट कमेटी की दो दिनों तक चली बैठक में स्लॉग ओवरों के दौरान बैटिंग प्वार प्ले ख़त्म करने से लेकर, हर तरह की नो बॉल पर फ्री हिट मिलने की सिफारिश की गई है. आपको बता दें कि आईसीसी क्रिकेट कमेटी के चेयरमैन पूर्व भारतीय कप्तान अनिल कुंबले हैं. 

इस कमेटी ने सर्किल से बाहर फील्डिंग के लिए पांच खिलाड़ियों को खड़ा करने की इजाज़त देने का भी प्रस्ताव दिया है. कमेटी की सिफारिशों के मुताबिक शुरुआती 10 ओवरों में सर्किल से बाहर दो खिलाड़ियों को रखने की अनुमति होगी, अगले 30 ओवरों में चार खिलाड़ी तथा आखिरी के 10 ओवरों में पांच खिलाड़ियों को क्षेत्ररक्षण पर लगाने की इजाज़त मिलेगी.

गेंद और बल्ले के बीच संतुलन रखने के मकसद से कमेटी ने बैट के आकार पर भी विचार-विमर्श किया, लेकिन इस मामले पर कोई दिशा-निर्देश जारी करने से इनकार कर दिया. कमेटी ने ये भी कहा कि गेंद की सीम को ध्यान में रखते हुए गेंद बनाने वालों से भी बातचीत की जाएगी ताकि बैट और बॉल के बीच संतुलन बना रहे.

सुरक्षा के देखते हुए अंतरराष्ट्रीय मैचों में हेल्मेट पहनने को ज़रूरी तो नहीं करार दिया जाएगा, लेकिन अंतरराष्ट्रीय मैचों में जो भी खिलाड़ी हेलमेट पहनें वो ब्रिटिश मानकों के अनुरूप हो. आईसीसी की इन सिफारिशों को अभी मुख्य कार्यकारी समिति की तरफ से औपचारिक मंजूरी मिलना बाकी है.

IANS