मुंबई. इडियन प्रमियर लीग(आईपीएल) ने लोगों के इस कदर अपना दिवाना बना दिया है कि वे नकली टिकट लेने से भी नहीं कतरा रहे हैं. ऐसे में मैच के टिकटों की कालाबाजारी करने वालों की चांदी कट रही है. ये टिकट माफिया फैंस को 10 हजार से लेकर 20 रुपये के बीच टिकट बेच रहे हैं.
 
इस घटना के बाद मुंबई पुलिस की नींद उड़ी हुई है, क्योंकि पहले तो ब्लैक में टिकट बेचे जाते थे, लेकिन अब नकली टिकट भी ब्लैक में बेचे जा रहे हैं. हालांकि पुलिस ने इस मामले में नामदेव देड़गे नाम के एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है. वहीं एक अन्य शख्स एक क्रिकेट फैन को 20 हजार रुपये में 4 नकली टिकट बेचकर नौ दो ग्यारह हो गया है जिसकी तलाश जारी है.
 
कई राज्यों में सक्रीय हो सकता है गिरोह
 
पुलिस को शक है की यह गिरोह देश के कई राज्यों में सक्रीय है और मशीनों के जरिये नकली टिकेट्स छापे जा रहे हैं और क्रिकेट फैंस को ठगा जा रहा है। इस गैंग का सरगना और अन्य सदस्य अभी भी फरार हैं. पुलिस के मुताबिक इस कालाबाजारी का जाल पूरे देश में फैला हो सकता है.
 
इस पुरे मामले का खुलासा हाल ही में वानखेड़े स्टेडियम में कोलकत्ता नाइट राइडर्स और मुंबई इंडियन्स के बीच खेले गए मैच में हुआ. इस गिरोह ने चार युवको को नकली टीकट बेचकर अपना शिकार बनाया है.