नई दिल्ली. भारतीय ओलंपिक संघ ने बॉलीवुड अभिनेता सलमान खान को रियो ओलंपिक 2016 का गुडविल एंबेसेडर बनाया है. लेकिन इस फैसले पर अब विवाद खड़ा होता दिखाई दे रहा है. लंदन ओलंपिक के कांस्य पदक विजेता पहलवान योगेश्वर दत्त को सलमान खान को एंबेसेडर बनाने वाला फैसला पसंद नहीं आया. उन्होंने ट्वीट कर इसका विरोध किया है. उन्होंने कहा है कि ओलंपिक में सलमान का क्या काम. 
 
योगेश्वर ने कहा, ‘एंबेसेडर का क्या काम होता है कोई मुझे बता सकता है क्या. क्यों पागल बना रहे हो देश की जनता को’. योगेश्वर ने एक नहीं कई ट्वीट कर अपनी नाराजगी जताई. उन्होंने कहा कि इस देश में कहीं भी जाकर फिल्म का प्रमोशन करने का अधिकार है, लेकिन ओलंपिक फिल्म प्रमोशन की जगह नहीं. उन्होंने कहा, ‘कहीं भी जाकर अपनी फिल्म का प्रमोशन करें, इस देश में अधिकार है लेकिन ओलंपिक फिल्म प्रमोशन की जगह नहीं.’
 
योगेश्वर ने ओलंपिक के पूर्व सितारों का जिक्र करते हुए लिखा, ‘पीटी उषा, मिल्खा सिंह, जैसे बड़े स्पोर्ट्स् स्टार हैं जिन्होंने कठिन समय में देश के लिए मेहनत की. खेल के क्षेत्र में इस एंबेसेडर ने क्या किया’.  
 
बता दें कि भारतीय ओलम्पिक संघ (आईओए) ने अपने मुख्यालय में सलमान को गुडविल एंबेसेडर बनाने की घोषणा करते हुए कहा था कि सलमान को दावेदारों की सूची में शामिल दो-तीन नामों में से चुना गया, जिसमें शाहरुख खान और महानायक अमिताभ बच्चन का नाम भी शामिल था.