मुंबई. महाराष्ट्र में आईपीएल मैच की वजह से पानी के संकट को लेकर चले विवाद पर भारतीय टी20 कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने अपनी राय दी है. धोनी का कहना है कि मैच को शिफ्ट करने से कोई हल नहीं निकलेगा इसके लिए एक परमानेंट इलाज करना जरूरी है.
 
धोनी से महाराष्ट्र में सूखे के बारे में उनके विचार देने के लिये पूछा गया तो धोनी ने कहा कि अगर आप देखो तो ये सभी सवाल सुनने में अच्छे लगते हैं, मुझे लगता है कि इसका दीर्घ कालिक निवारण करना अहम है.
 
धोनी ने यहां एक प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि आईपीएल का पांचवां, छह या सातवां मैच हो या नहीं, मुझे नहीं लगता कि इससे कुछ ज्यादा फर्क पड़ेगा. उन्होंने कहा कि लेकिन हमें इसका लंबे समय के लिये निवारण ढूंढना होगा. हम किस तरह से सुनिश्चित करें कि जहां पानी की कमी हो, पानी उन इलाकों में भेजा जाये. धोनी ने कहा कि मैंने टीवी पर जो देखा है, वहां कुछ बांध ऐसे हैं, जहां केवल एक या दो प्रतिशत ही पानी बचा है. इसलिये हमें इसका दीर्घ कालिक समाधान ढूंढना होगा.
 
बता दें कि राज्य में सूखे के चलते बॉम्बे हाईकोट में याचिका डाली गई थी कि मैच में पिच के लिए भारी मात्रा में पानी बरबाद होगा और हालात देखते हुए मैच कराना सही नहीं है. जिसपर कोर्ट ने फिलहाल फैसला सुरक्षित कर लिया है और 13 अप्रैल को सुनवाई की जाएगी.