मुंबई. सूखे की मार झेल रहे महाराष्ट्र में आईपीएल टूर्नामेंट के मैच खेले जाने पर सस्पेंस हट गया है. बॉम्बे हाईकोर्ट से हरी झंडी मिलने के बाद यह साफ हो गया है कि 9 अप्रैल को खेले जाना वाला पहला मैच वानखेड़े स्टेडियम में ही खेला जाएगा.
 
बॉम्बे हाईकोर्ट ने मैच पर स्टे लगाने के कोर्ट ने इंकार कर दिया है. जानकारी के अनुसार कोर्ट ने मामले की सुनवाई 13 अप्रैल तक टाल दी है. 
 
दरअसल 9 अप्रैल से शुरू होने वाले आईपीएल के 19 मैचों पर महाराष्ट्र में सूखे के चलते खतरा मंडरा रहा था. महाराष्ट्र के विदर्भ और मराठवाड़ा इलाके भी पानी की भारी कमी झेल रहे हैं. 
 
इस बीच मुंबई बीजेपी के सचिव विवेकानंद गुप्ता ने राज्य में सूखे का हवाला देते हुए बीसीसीआई अध्यक्ष को लिखी चिट्ठी में कहा कि एक स्टैंडर्ड क्रिकेट मैदान के लिए 80 हजार से एक लाख लीटर तक पानी की जरूरत होती है. ऐसे में हफ्ते में दो से तीन बार क्रिकेट मैदान को ठीक करने के लिए 1 लाख 60 हजार से 3 लाख लीटर पानी की खपत हो सकती है.
 
साथ ही अप्रैल से जून तक ज्यादा गर्मी पड़ने की आशंका के बीच उन राज्यों में लोगों की मुसीबत और बढ़ सकती हैं जो पहले से ही सूखे का सामना कर रहे हैं.