हैदाराबाद. सनराइजर्स हैदराबाद ने सोमवार को किंग्स इलेवन पंजाब के साथ हुए मुकाबले में जीत हासिल की है. हैदराबाद ने पंजाब को पांच रन से हरा दिया. सनराइजर्स से मिले 186 रनों के लक्ष्य के जवाब में किंग्स इलेवन डेविड मिलर की नाबाद 89 रनों की आतिशी पारी के बावजूद निर्धारित 20 ओवरों में सात विकेट खोकर 180 रन ही बना सकी. किंग्स इलेवन ने शुरुआत अच्छी की और टीम के लिए मुरली विजय (24) और मनन वोहरा (20) ने पहले विकेट के लिए 4.5 ओवरों में 42 रन जोड़ लिए,हालांकि इसके बाद किंग्स इलेवन का बल्लेबाजी क्रम बुरी तरह लड़खड़ा गया.

बिपुल शर्मा ने पांचवें ओवर में पहले मुरली को शिखर धवन के हाथों लपकवा चलता किया फिर अपने अगले ही ओवर में वोहरा को भी भुवनेश्वर कुमार के हाथों कैच आउट करवा दोनों सलामी बल्लेबाजों के विकेट चटका डाले. अगले दो ओवरों में ग्लेन मैक्सवेल (11) और रिद्धिमान साहा (5) भी पवेलियन लौट चुके थे. कप्तान जॉर्ज बेले (6) और गुरकीरत सिंह (3) भी सस्ते में आउट हुए. इस बीच डेविड मिलर (नाबाद 89) ने जुझारू पारी खेली और एक छोर संभाले रखा. मिलर ने अक्षर पटेल (15) के साथ 29 गेंदों में 59 रनों की तेज-तर्रार साझेदारी कर टीम को जीत के काफी करीब पहुंचा दिया. सनराइजर्स को आखिरी छह गेंदों में 28 रनों की दरकार थी और इशांत शर्मा की शुरुआती दो गेंद पर छक्के जड़कर मिलर ने सनराइजर्स के कप्तान डेविड वार्नर की चिंता बढ़ा दी. मिलर इस ओवर से 22 रन हासिल कर सके तथा इशांत की दो डॉट गेंदों ने सनराइजर्स को जीत दिला दी. मिलर अंत तक नाबाद रहे। उन्होंने 44 गेंदों में दो चौके और नौ छक्के लगाए. सनराइजर्स के लिए हेनरिक्स सबसे सफल गेंदबाज रहे. हेनरिक्स ने चार ओवरों में 16 रन देकर तीन विकेट हासिल किए. बिपुल शर्मा को दो विकेट मिले.

इससे पहले, टॉस जीतकर बल्लेबाजी करने उतरे सनराइजर्स ने कप्तान डेविड वार्नर (81) और शिखर धवन (24) की बदौलत शानदार शुरुआत की और छह ओवर में 56 रन जोड़ लिए. इसके बाद सातवां ओवर लेकर ग्लेन मैक्सवेल आए और पहली ही गेंद पर धवन को विकेट के पीछे कैच करा दिया. धवन ने 18 गेंदों में चार बाउंड्री लगाए. वार्नर ने इसके बाद मोएसिस हेनरिक्स (28) के साथ दूसरे विकेट के लिए 65 रनों की साझेदारी कर टीम को संभाले रखा.इस बीच वार्नर ने 36 गेंदों में चौर चौके और तीन छक्कों की मदद से अपना अर्धशतक पूरा किया.

गुरकीरत सिंह की गेंद पर हेनरिक्स अनुरीत सिंह को कैच थमा बैठे. हेनरिक्स ने इस बीच 24 गेंदों का सामना किया और चार चौके लगाए.हेनरिक्स के बाद बल्लेबाजी करने उतरे इयान मोर्गन ने 15वें ओवर में दो छक्के और एक चौके की मदद से तेजी से 17 रन बटोर लिए हालांकि अगले ही ओवर में वह ब्यूरॉन हेंड्रिक्स को अपना विकेट थमा बैठे. मोर्गन का कैच मनन वोहरा ने लिया. हेंड्रिक्स ने अपने अगले ओवर में वार्नर और नमन ओझा (2) के विकेट चटका, सनराइजर्स को आखिरी के ओवरों में ज्यादा रन बटोरने से रोक दिया. इस ओवर में हेंड्रिक्स ने सिर्फ दो रन दिए. नमन ओझा रन आउट हुए. वार्नर का कैच गुरकीरत सिंह ने लिया. वार्नर ने 52 गेंदों की अपनी नायाब पारी में छह चौके और पांच छक्के लगाए. इसके साथ ही वार्नर ने आईपीएल-8 में 500 रन पूरे कर लिए और सर्वाधिक रन बनाने के मामले में शीर्ष पर पहुंच गए. आईपीएल-8 में वार्नर का यह छठा अर्धशतक है. सनराइजर्स अच्छी शुरुआत का लाभ नहीं उठा सके और आखिरी के पांच ओवरों में मात्र 45 रन जोड़ सके.

IANS