मुंबई. भारतीय क्रिकेट बोर्ड की सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली और वीवीएस लक्ष्मण की एडवाइजरी कमेटी ने ‘द वॉल’ के नाम से मशहूर राहुल द्रविड़ ने टीम इंडिया के चीफ कोच बनने के लिए संपर्क किया है. ये तीनों जानना चाहते हैं कि क्या द्रविड़ टीम इंडिया के कोच बनने के इच्छुक हैं? द्रविड़ फिलहाल इंडिया ए और इंडिया अंडर 19 टीम के कोच हैं. सूत्रों के मुताबिक, कमेटी की ओर से मिले प्रस्ताव पर राहुल द्रविड़ ने कहा है कि वह इस बारे में सोचेंगे. बता दें कि शेन वॉर्न ने भी टीम इंडिया का फुल टाइम कोच बनने की इच्छा जाहिर की है. एडवाइजरी कमेटी की मीटिंग मंगलवार को होगी. 
 
बीसीसीआई चाहता है कि टीम इंडिया को कोई ऐसा कोच मिले जो युवा बल्लेबाजों को पॉलिश कर सके खासतौर पर टेस्ट क्रिकेट के लिए. सूत्रों की माने तो द्रविड़ कोच बनने के लिए राजी हो चुके हैं और उन्हें 2019 तक के लिए टीम इंडिया का कोच नियुक्त किया जा सकता है. इस जिम्मेदारी में राहुल द्रविड़ को पूरी छूट के साथ काम करने का मौका देने की भी खबरें हैं. भारतीय टीम को जून 2016 से 2017 के बीच 18 टेस्ट मैच खेलने हैं. जिसमें राहुल द्रविड़ की कड़ी परीक्षा हो सकती है.
 
बता दें कि रवि शास्‍त्री का करार टी20 वर्ल्‍ड कप तक ही था. वह टीम के साथ डायरेक्टर के तौर पर थे, लेकिन सूत्रों का कहना है कि हेड कोच की भूमिका के लिए उनके नाम पर विचार नहीं हो रहा है. हालांकि, शास्त्री टीम के साथ जुड़े रहना चाहते हैं. क्रिकेट बोर्ड की एडवाइजरी कमेटी की बैठक मंगलवार को होने वाली है. इस मीटिंग में कोच के बारे में विचार किया जाएगा.