लीवरपूल. ओलम्पिक में कांस्य जीत चुके भारत के स्टार मुक्केबाज विजेंदर सिंह ने पेशेवर मुक्केबाजी में जीत का अभियान जारी रखते हुए शनिवार को लगातार चौथी जीत दर्ज की. विजेंदर ने अपने करियर के चौथे पेशेवर मुकाबले में हंगरी के एलेक्जेंडर होर्वाथ को तीन राउंड में नॉकआउट कर दिया.
 
विजेंदर को उनके प्रतिद्वंद्वी ने अच्छी चुनौती दी, लेकिन इको एरेना में हुए मुकाबले में तीसरे राउंड में भारतीय स्टार ने उन्हें हराने में कामयाबी हासिल की. मैच के बाद विजेंदर ने कहा, ‘मैं नहीं जानता कि मुझे क्या हुआ. मुझे लगता है कि वह बहाना बनाकर बाहर निकलना चाहता था. इस साल में यह मेरे लिए अच्छी शुरूआत है. मैं एक और नॉकआउट मैच जीतकर खुश हूं.”
 
उन्होंने कहा कि मेरे ख्याल से भारत में इस साल (11 जून को) होने वाले डब्ल्यूबीओ एशिया के खिताबी मुकाबले से पहले मेरे लिए यह शानदार शुरूआत है. विजेंदर का अगला मुकाबला दो अप्रैल को होगा. मैच किस स्थान पर होगा इसका निर्णय अभी होना बाकी है. 
 
क्या कहा था एलेक्जेंडर ने ?
रिंग में उतरने से पहले  एलेक्जेंडर होर्वाथ ने कहा था कि मेरी नसों में सांपों का खून दौड़ रहा है और ऐसे में हो ही नहीं सकता कि विजेंद्र मुझे हरा सकें. मैं विजेंदर से मुकाबले के लिए सांप का खून पीकर अपनी तैयारी कर रहे हैं. जब से मैंने अपनी डाइट में सांपों का खून शामिल किया है, उसके बाद से मैं पहले से ज्यादा ट्रेनिंग और बेहतर पंच कर रहा हूं.
 
विजेंदर ने शहीदों के नाम की जीत
मैच के बाद ट्वीट में विजेंदर ने अपनी जीत शहीदों के नाम कर दी. कहा, ”मैं अपनी यह जीत जम्मू-कश्मीर और पठानकोट में आतंकी हमले के वक्त इंडियन आर्म्ड फोर्स के शहीद जवानों को डेडिकेट करता हूं.”