नई दिल्ली. रूस की टेनिस खिलाड़ी और पांच बार की ग्रैंड स्लैम विजेता मारिया शारापोवा ने एक बड़ा खुलासा किया है. शारापोवा ने बताया कि ऑस्ट्रेलियन ओपन के दौरान वह ड्रग टेस्ट में फ़ेल हो गई थीं जिसके बाद उन पर करीब 2 साल तक का प्रतिबंध लग सकता है.

आॉस्ट्रलिया के स्पोर्ट्स डॉक्टर पीटर ब्रूकनर ने बताया कि शारापोवा प्रतिबंधित मेल्डोनियम दवा लेने के चलते ड्रग टेस्ट में फ़ेल हुई हैं. शारापोवा इस दवा को स्वास्थ्य कारणों के चलते पिछले 10 वर्षों से ले रही हैं. यह दवा डायबिटीज़ और लो मैग्नीशियम के इलाज में इस्तेमाल होती है लेकिन वर्ल्ड एंटी डोपिंग एंजेंसी ने 1 जनवरी को ही इसके सेवन पर रोक लगा दी थी.

पहले यह दवा वाडा कि प्रतिबंधित दवाओं की सूचि में शामिल नहीं थी. अमरीका में इस दवा पर पहले से पाबंदी है और माना जाता है कि इससे खिलाड़ियों को अच्छा प्रदर्शन करने में मदद मिलती है लेकिन पूर्वी यूरोप के कुछ देशों में इसका इस्तेमाल किया जाता है.

शारापोवा ने ड्रग टेस्ट में फ़ेल होने की पूरी ज़िम्मेदारी ले ली है. इस जानकारी के बाद नाइक ने उनके साथ अपना करार तोड़ दिया है. शारापोवा ने अपनी गलती मानते हुए कहा कि वह “अपने फ़ैमिली डॉक्टर की सलाह पर पिछले 10 साल से मिल्ड्रोनेट नाम की दवा ले रही थी, जिसका एक नाम मेल्डोनियम भी है जिसके बारे में मैं नहीं जानती थी.

उन्होंने कहा कि मैंने बहुत बड़ी गलती की है, मेरी इस गलती के चलते फैन्स और खेल को धक्का लगा है लेकिन मैं इस खेल से 4 साल की उम्र से जुड़ी हुई हूं और मैं इससे बेहद प्यार करती रहूंगी.”