बेंगलुरु. क्रिस गेल (117) की धुआंधार शतकीय पारी के बाद गेंदबाजों के उम्दा प्रदर्शन की बदौलत रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने एमए चिदंबरम स्टेडियम में जारी इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के आठवें संस्करण के 40वें मैच में किंग्स इलेवन पंजाब को 138 रनों के विशाल अंतर से हरा दिया. रॉयल चैलेंजर्स से मिले 227 रनों के विशाल लक्ष्य का पीछा करते हुए किंग्स इलेवन की पूरी टीम 13.4 ओवरों में मात्र 88 रनों पर ढेर हो गई.

रनों के लिहाज से आईपीएल के इतिहास में यह दूसरी सबसे बड़ी जीत है. सबसे बड़ी जीत का रिकॉर्ड कोलकाता नाइट राइडर्स के नाम है. नाइट राइडर्स ने आईपीएल के पहले संस्करण में रॉयल चैलेंजर्स को ही 140 रनों के अंतर से हराया था. किंग्स इलेवन टीम बड़े स्कोर के दबाव में साफ नजर आई और मनन वोहरा (2) के रूप में पहले ही ओवर से विकेटों के गिरने का सिलसिला शुरू हुआ.

किंग्स इलेवन के सिर्फ दो बल्लेबाज रिद्धिमान साहा (13) और अक्षर पटेल (नाबाद 40) दहाई का आंकड़ा पार कर सके. अक्षर ने संदीप शर्मा (7) के साथ आखिरी विकेट के लिए 23 रनों की साझेदारी कर अपनी टीम को आईपीएल में सबसे बड़ी हार से बचाने का काम किया. जीत-हार की चिंता से परे बल्लेबाजी का लुत्फ उठाते हुए अक्षर ने 25 गेंदों की पारी में पांच चौके और दो छक्के लगाए और विशेषज्ञ बल्लेबाजों को नसीहत दी. मिशेल स्टार्क और श्रीनाथ अरविंद ने चार-चार विकेट चटकाए.

इससे पहले, टॉस हारकर बल्लेबाजी करने उतरे रॉयल चैलेंजर्स को गेल और कप्तान विराट कोहली (32) ने बेहद ठोस शुरुआत दी. गेल और कोहली ने पहले विकेट के लिए 11.2 ओवरों में 119 रन जोड़ डाले. गेल ने मैच के दूसरे ओवर में मिचेल जॉनसन की गेंद पर 20 रन और तीसरा ओवर लेकर आए संदीप शर्मा की गेंद पर 24 रन जोड़कर अपनी आतिशी पारी का नजारा पेश कर दिया था. एक छोर से गेल तूफानी अंदाज में खेल रहे थे तो दूसरे छोर से कोहली संयत तरीके से शॉट ले रहे थे और लगातार छोर बदल रहे थे.

अंतत: संदीप शर्मा ने 12वें ओवर की दूसरी गेंद पर कोहली को क्लीन बोल्ड कर इस साझेदारी को तोड़ा. कोहली ने 30 गेंदों में तीन चौके और एक छक्का लगाया. हालांकि किंग्स इलेवन की मुसीबत कम नहीं होने वाली थी, क्योंकि अब क्रीज पर गेल और अब्राहम डिविलियर्स के रूप में आईपीएल की सबसे आक्रामक जोड़ी खड़ी थी. दोनों बल्लेबाजों ने इसे चरितार्थ करते हुए मात्र 34 गेंदों में देखते-देखते 71 रन और जोड़ डाले.

इस बीच गेल ने 46 गेंदों में आईपीएल-8 का पहला और आईपीएल का अपना पांचवां शतक पूरा किया. टी-20 क्रिकेट में गेल का यह 14वां शतक है. अपनी धुआंधार बल्लेबाजी के लिए गेल क्यों जाने जाते हैं, इसे इसी बात से अंदाजा लगाया जा सकता है कि गेल के बाद टी-20 में सर्वाधिक शतकों का रिकॉर्ड ब्रेंडन मैक्‍कुलम के नाम है, जिन्होंने छह शतक लगाए हैं. गेल की इस बेरहम पारी पर अंतत: अक्षर पटले ने लगाम लगाई. गेल पटेल को उन्हीं की गेंद पर कैच थमा बैठे. गेल ने 57 गेंदों की अपनी आतिशी पारी में सात चौके और 12 छक्के जड़े.

डिविलियर्स अंत तक नाबाद रहे और 47 रनों की अपनी तेज-तर्रार पारी में उन्होंने 24 गेंदों का सामना कर तीन चौके और चार छक्के लगाए. किंग्स इलेवन की ओर से संदीप शर्मा ने सर्वाधिक दो विकेट लिए, जबकि अनुरीत सिंह एकमात्र गेंदबाज रहे जिनकी इकॉनमी दहाई से नीचे रही.

IANS