नई दिल्ली. जाट समुदाय की तरफ से आरक्षण की मांग को लेकर हिंसा करने के बाद भारतीय टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज विरेंद्र सहवाग ने लोगों से अपील की है कि जिसकी जो भी मांग हो वो संवैधानिक तरीके से रखें.

सहवाग ने अपने फेसबुक पेज पर एक पोस्ट में लिखा है ‘ सभी भाइयों से मेरी विनती है की हिंसा त्याग दो और जिसकी जो भी मांग हो वो संवैधानिक तरीक़े से रखो. हम रक्षक हैं, हिंसक नहीं.
सहवाग ने आगे लिखा है ‘देश की सेना और खेल जगत और ना जाने कितनी चीज़ों में देश का नाम ऊंचा किया है. हमारा जोश देश के भले लिए इस्तेमाल होना चाहिए.

 

सभी भाइयों से मेरी विनती है की हिंसा त्याग दो और जिसकी जो भी माँग हो वो संवैधानिक तरीक़े से रखो। हम रक्षक हैं, हिंसक नही…

Posted by Virender Sehwag on Saturday, February 20, 2016

बता दें कि जाट आरक्षण की मांग को लेकर हरियाणा में हालात लगातार बिगड़ते जा रहे हैं. हिंसा में अबतक करीब 9 लोगों की मौत हो चुकी है वहीं 9 शहरों में कर्फ्यू भी लगा दिया गया है. प्रदेश में अलग-अलग जगहों पर लोग प्रदर्शन कर रहे हैं.