नई दिल्ली. जेएनयू में देशविरोधी नारेबाज़ी के विवाद में बॉक्सर योगेश्वर दत्त और शिखर धवन के बाद भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने ट्विटर के जरिये भारतीय सेना का धन्यवाद करते हुए कहा कि आज उनकी वजह से ही हम देश में बहस कर पा रहे हैं.

कप्तान धोनी ने ट्वीट किया जिसमें उन्होंने कहा कि आज हम बोलने की स्वतंत्रता पर डिबेट कर पा रहे हैं और ये सब भारतीय सेना की वजह से ही हो पा रहा है.

धोनी ने दूसरे ट्वीट में कहा कि स्पेशल फोर्स और सेना के जवान आपके और हमारी तरह ही आम आदमी होते हैं जो देश के लिए पूरी तरह से प्रेरित होते हैं और वो देश को खुद से पहले रखते हैं.

धोनी की तरह की भारतीय टीम के स्टार ओपनर गौतम गंभीर ने भी ट्वीट कर कहा था, जेएनयू और जाधवपुर यूनिवर्सिटी से बेहद चौंकाने वाले वीडियो सामने आए हैं. नेताओं को इसमें राजनीति नहीं करनी चाहिए और हम सभी को अभ देश के लिए एकसुर में खड़े होने की जरूरत है. गंभीर ने दूसरे ट्वीट में राजनीतिक पार्टियों के निशाना बनाते हुए कहा कि सत्ता में फिर से काबिज़ होने के लिए देश के विश्वास के साथ खिलवाड़ मत करिए.

वहीं धोनी और गंभीर की तरह ही भारतीय प्रोफेशनल बॉक्सर विजेंदर सिंह ने बेहद आक्रामक ट्वीट कर कहा था कि जिस देश में खेत की डोल का 1 इंच खिसकने पर 10 कत्ल हो जाते हैं, वो कश्मीर दे देगा ? बहुत बड़ी गलतफहमी पाल रखी है कुछ लोगो ने.