ढाका. आईसीसी अंडर 19 वर्ल्ड कप के फाइनल में 14 फरवरी को वेस्टइंडीज और भारत की टीम आमने सामने होंगी. वेस्टइंडीज ने गुरुवार को एक रोमांचक मुकाबले में मेजबान बांग्लादेश को तीन विकेट से हराकर आईसीसी अंडर 19 वर्ल्ड कप के फाइनल में प्रवेश किया जहां उसका सामना तीन बार के चैंपियन भारत से होगा.

वेस्टइंडीज पर भारी है भारतीय टीम का रिकॉर्ड

अंडर 19 स्तर पर भारत और वेस्टइंडीज के बीच अब तक नौ मैच खेले गए हैं जिनमें से भारतीय टीम सात में जीत दर्ज करने में सफल रही है. वेस्टइंडीज ने दो मैच जीते हैं. वेस्टइंडीज इससे पहले 2004 में आईसीसी अंडर 19 वर्ल्ड कप के फाइनल में पहुंचा था. संयोग से तब भी टूर्नामेंट की मेजबानी बांग्लादेश कर रहा था. पाकिस्तान ने तब उसे फाइनल में 25 रनों से हराया था.

वेस्टइंडीज-बांग्लादेश की भिडंत पर एक नजर

वेस्टइंडीज के सामने 227 रन का लक्ष्य था और ऐसे में स्प्रिंगर ने 88 गेंदों पर पांच चौकों और एक छक्के की मदद से नाबाद 62 रन की शानदार पारी खेली. उनके अलावा कप्तान शिमरान हेटमेयर (60) और सलामी बल्लेबाज गिडरोन पोप (38) ने भी उपयोगी योगदान दिया जिससे वेस्टइंडीज 48.4 ओवर में सात विकेट पर 230 रन बनाकर दूसरी बार इस टूर्नामेंट के फाइनल में जगह बनाई.

इससे पहले बांग्लादेश की टीम पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 50 ओवरों में 226 रन पर आउट हो गई. उसकी तरफ से कप्तान मेंहदी हसन मिराज ने 60 जबकि मोहम्मद सैफुद्दीन ने 36 और जोएराज शेख ने 35 रन का योगदान दिया.

वेस्टइंडीज के लिए कीमो पाल ने 20 रन देकर तीन विकेट लिए जबकि स्प्रिंगर और शेमार होल्डर ने दो दो विकेट हासिल किए. वेस्टइंडीज ने सहज शुरुआत की लेकिन उसने नियमित अंतराल में विकेट गंवाए जिससे उसके लिए लक्ष्य तक पहुंचना मुश्किल हो गया था.

बांग्लादेश के लिए सालेह अहमद शावन ने 37 रन देकर तीन जबकि मोहम्मद सैफुद्दीन और मेहदी हसन मिराज ने दो दो विकेट हासिल किए लेकिन उनका आलराउंड प्रदर्शन आखिर में स्प्रिंगर के प्रयास के आगे बेकार चला गया.