नई दिल्ली. फिरोज शाह कोटला स्टेडियम में दिल्ली डेयरडेविल्स को इस सीजन के आईपीएल में पहली जीत मिली है, साथ ही उसने स्टेडियम में जीत के सिलसिले को बरकरार रखते हुए मुंबई इंडियंस को हरा दिया. दिल्ली ने यहां मुंबई इंडियंस 37 रनों से हराया. पहले बल्लेबाजी करते हुए डेयरडेविल्स ने मुंबई के सामने 191 रनों का लक्ष्य का रखा था. जवाब में मुंबई इंडियंस टीम निर्धारित 20 ओवरों में नौ विकेट खोकर 153 रन ही बना सकी.

मुंबई ने काफी संभलकर बड़े लक्ष्य का पीछा करना शुरू किया. लेंडिल सिमंस (15) और पार्थिव पटेल (28) के बीच अच्छी साझेदारी बनती दिख ही रही थी कि डोमनिक जोसफ ने सिमंस को कप्तान ज्यां पॉल ड्यूमिनी के हाथों कैच करा दिया. पटेल भी इसके बाद ज्यादा देर नहीं टिक सके और एंजेलो मैथ्यूज की गेंद पर इमरान ताहिर ने उनका शानदार कैच लपका. पटेल ने इस बीच 19 गेंदों में चार चौके और एक छक्का भी लगाया. मुंबई ने उन्मुक्त चंद (14) और कीरन पोलार्ड (10) के विकेट भी जल्द ही गंवा दिए. 10.2 ओवरों में मुंबई के 82 रनों पर चार विकेट गिर चुके थे. इसके बाद कप्तान रोहित शर्मा (30) ने अंबाती रायडू (30) के साथ पांचवें विकेट के लिए 49 रनों की साझेदारी कर टीम को स्थिरता देने की कोशिश की, लेकिन इस बीच वे अपेक्षित गति से रन जुटाने में असफल रहे.

नाथन कोल्टर नील ने 16वें ओवर की आखिरी गेंद पर रोहित को शाबाज नदीम के हाथों कैच करा उम्मीद की इस आखिरी जोड़ी को भी तोड़ दिया. लेकिन अगले ओवर में जो इमरान ने किया उसने मुंबई की रही-सही उम्मीद भी खत्म कर दी. इमरान अपना तीसरा और डेयरडेविल्स का 17वां ओवर लेकर आए और मात्र चार रन देकर तीन विकेट चटका दिए.

इसके बाद मुंबई के सामने आखिरी 18 गेंदों में 56 रनों का लक्ष्य रह गया और मात्र दो विकेट शेष रह गए. इन तीन ओवरों में हालांकि मुंबई के बल्लेबाज मात्र 18 रन ही जोड़ सके. इमरान ताहिर डेयरडेविल्स के सबसे सफल गेंदबाज रहे. उन्होंने चार ओवर में 22 रन देकर तीन विकेट चटकाए. इसके साथ ही ताहिर आईपीएल-8 में 13 विकेट के साथ गेंदबाजों की सूची में एकबार फिर शीर्ष पर पहुंच गए. डोमनिक जोसफ ने बेहद किफायती गेंदबाजी की और दो ओवर में सात रन देकर एक विकेट भी हासिल किया. 

इससे पहले, टॉस हारकर बल्लेबाजी करने उतरे डेयरडेविल्स ने निर्धारित 20 ओवरों में चार विकेट पर 190 रन बनाए. मिशेल मैक्लेनगन ने पहले ही ओवर में मयंक अग्रवाल (1) का विकेट चटकाकर मुंबई को शुरुआती सफलता दिला दी, लेकिन इसके बाद ड्यूमिनी ने अय्यर के साथ 154 रनों की बेहतरीन साझेदारी कर टीम मजबूत स्थिति में ला दिया. इस मैच में अच्छी लय में नजर आए लसिथ मलिंगा ने 17वें ओवर में अय्यर को क्लीन बोल्ड कर इस साझेदारी को तोड़ा. अय्यर ने 56 गेंदों की अपनी बेहतरीन पारी में सात चौके और पांच छक्के लगाए.

पहली ही गेंद पर चौके के साथ अपनी पारी शुरू करने वाले एंजेलो मैथ्यूज (17) हालांकि ज्यादा देर विकेट पर नहीं बिता सके और अगले ही ओवर की आखिरी गेंद पर विकेट के पीछे लपके गए. मैक्लेनगन ने उनका विकेट लिया. 19वें ओवर में मात्र छह रन देने वाले मलिंगा मुंबई के सबसे किफायती गेंदबाज रहे. उन्हें चार ओवरों में 23 रन दिए और एक विकेट हासिल किया. हालांकि एक छोर संभालकर तूफानी अंदाज में बल्लेबाजी कर रहे ड्यूमिनी ने 50 गेंदों का समना कर तीन चौके और छह छक्के लगाकर टीम को 190 के चुनौतीपूर्ण स्कोर तक पहुंचा दिया. बेहद महंगे साबित हुए जसप्रीत बुमराह ने आखिरी ओवर में युवराज सिंह (2) का विकेट लिया. उन्होंने चार ओवरो में 55 रन लुटाए.