कराची. भारत-पाकिस्तान के बीच क्रिकेट सीरीज को लेकर गतिरोध थमने का नाम नहीं ले रहा है. पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने कहा है कि अगर भारत सरकार अगले दो दिन में सीरीज को मंजूरी नहीं देती तो इसे रद्द कर दिया जायेगा.

पीसीबी के अध्यक्ष शहरयार खान का कहना है कि पीसीबी एक दो दिन इंतजार करेगी जिसके बाद श्रृंखला रद्द कर दी जायेगी. दोनों टीमों के बीच सीमित ओवरों की छोटी श्रृंखला इस महीने श्रीलंका में होनी है. जिसको अबतक भारत सरकार की सहमति नहीं मिली है.

सुषमा-नवाज ने नहीं की कोई बात

शहरयार ने कहा कि सीरीज के आयोजन की संभावना अब बहुत कम है क्योंकि भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ना तो पाकिस्तानी अधिकारियों के साथ और ना ही पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के साथ बैठक में भारत-पाक क्रिकेट सीरीज पर कोई बात की है.

शहरयार का ये भी कहना है कि अगरप सीरीज नहीं होती तो हमें चार से पांच करोड़ डालर का नुकसान होगा क्योंकि हमने श्रीलंका में श्रृंखला की तैयारियां शुरू कर दी थी. हमें उम्मीद थी कि भारतीय विदेश मंत्री और पाकिस्तानी अधिकारियों के बीच बातचीत में क्रिकेट का मसला भी उठेगा लेकिन ऐसा नहीं हुआ.

सीरीज ना होना आर्थिक तौर पर झटका

उन्होंने कहा कि भारत के खिलाफ सीरीज नहीं होना आर्थिक तौर पर हमारे लिये झटका है. हमें उम्मीद थी कि भारतीय बोर्ड को सरकार से मंजूरी मिल जायेगी क्योंकि उन्होंने हमारे साथ एमओयू पर हस्ताक्षर किये हैं. हमें बाकी श्रृंखलाओं के भविष्य के बारे में भी सोचना है.

पीसीबी अध्यक्ष ने कहा कि मार्च में भारत में होने वाले टी20 विश्व कप में पाकिस्तान की भागीदारी का फैसला उनकी सरकार से मंजूरी पर निर्भर होगा.