नई दिल्ली. फिरोजशाह कोटला में बीसीसीआई की तरफ से सम्मानित होने के बाद सहवाग ने अपने 319 रनों के रिकार्ड के बारे में बात करते हुए कहा कि अगर उनके दोनों बेटों में से कोई भी उनका ये रिकॉर्ड तोड़ देगा तो वो उसे फरारी गिफ्ट करेंगे.

बता दें कि सहवाग के दो बेटे हैं. एक का नाम वेदांत है और दूसरे का आर्यवीर. सहवाग अपने दोनों ही बेटों को क्रिकेटर बनाना चाहते हैं. भविष्य में क्या करते हैं ये तो वक्त ही बताएगा लेकिन सहवाग की हसरत उन्हें क्रिकेटर बनाने की ही है.

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले चुके विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग को फिरोजशाह कोटला मैदान में सम्मानित किया गया था. इस मौके पर सहवाग के साथ उनकी मां कृष्णा सहवाग, पत्नी आरती और दोनों बेटे मौजूद थे.

फिरोजशाह कोटला मैदान में सहवाग के सम्मान समारोह को खास बनाने के लिए दोनों टीमों के ड्रैसिंग रूम के ऊपर ‘थैंक्यू वीरू’ का बोर्ड भी लगाया गया था. इसके अलावा स्टेडियम के टाटा छोर को ‘वीरू 31 एंड’ का नाम दिया गया.