नई दिल्ली: अगस्त के महीने में बारिश और बाढ़ ने देश के कई शहरों में जबरदस्त तबाही मचा रखी है. यूपी से लेकर बिहार तक बाढ़ से त्राहिमाम मचा है. आज हम आपको बाढ़ की एक एक तस्वीर दिखाएंगे.
 
ये भी बताएंगे कि आखिर नेपाल से आए सैलाब ने कहां चंद घंटों में एक शहर को डूबो दिया है. लेकिन सबसे पहले बाढ़ के बीच से आई आज की सबसे हैरान करने वाली तस्वीर आपको दिखाते हैं. आसमान से गिरी बूंद-बूंद बारिश जमीन पर जलदैत्य बनकर तांडव मचा रही है. इसके रास्ते में जो भी आ रहा है, वो उसे निगलती चली जा रही है.
 
इन तस्वीरों को देखिए सैलाब के बीच फंसा ये शख्स तिनके की तरह बहा जा रहा है. नदी की उफनती लहरें इसे कभी ऊपर उठा ले जा रही हैं. कभी ऐसा लग रहा जैसे ये लहरें अगले ही पल इसे खुद में समा लेने वाली हैं. लेकिन सैलाब के बीच इस शख्स को लकड़ी का एक कूंदा हाथ लगा गया. बस इसी के सहारे ये इन मचलती लहरों खुद को बचाने में जुटा है.
 
नदी में लहरों के प्रचंड प्रहार को देखकर ऐसा मालूम पड़ रहा हैं, जैसे समंदर में हाईटाइड आया हो.ये तस्वीरें यूपी के श्रावस्ती जिले की हैं. यहां नेपाल से आए सैलाब ने ऐसा रौद्र रूप अख्तियार किया कि हर तरफ तबाही का मंजर नजर आ रहा है.
 
गांवों में सैलाब का पानी इतनी तेजी से घुसा कि लोगों को संभलने तक का मौका नहीं मिला है. सैलाब में घिरने से पहले जो संभल गए, उनकी जान तो जान बच गई. लेकिन बाढ़ के पानी में कई लोगों के बह जाने की भी खबर सामने आ रही है.
 
सैलाब ने श्रावस्ती जिले के करीब 50 से ज्यादा गांव का संपर्क पूरी तरह से काट दिया है. दर्जनों बस्तियों में बाढ़ का पानी घुस आया है. और सैंकड़ों जलबंधक लोग चूल्हा चौका लेकर गांव की पगडंडियों रहने को मजबूर हो गए हैं.
 
किसानों की खेती तो बर्बाद हुई ही, घर में जो अनाज रखा था, वो भी सैलाब बहा ले गया. नेपाल से आए सैलाब ने चंद मिनटों में ऐसी सनसनी मचाई कि राप्ति नदी का जलस्तर खतरे के निशान को पार कर गया। फिलहाल नदी लाल निशान से ढाई मीटर ऊपर बह रही है.