नई दिल्ली: महंत से मुख्यमंत्री बने योगी आदित्यनाथ के घर का पता आज बदल गया. कल तक मंदिर के एक कमरे में रहने वाले योगी आज से सीएम हाउस में रहेंगे. शाही महल की तरह दिखने वाले मुख्यमंत्री आवास में कैसा होगा योगी का कमरा. कैसा होगा उनका मंदिर और क्या-क्या हैं तैयारियां.
 
योगी ने मुख्यमंत्री आवास का शुद्धिकरण क्यों कराया ? ये हे देश के सबसे बड़ सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का नया आवास. सीएम आवास में प्रवेश करते ही पंडितों ने योगी आदित्यनाथ के हाथ में कलश दिया. गौरी गणेश की पूजा करवाई. जिसके बाद कलश लेकर योगी सीएम आवास में स्थित मंदिर में पहुंचे.
 
वहां गोरखनाथ मंदिर से आए सात पंडितों के साथ योगी आदित्यनाथ ने पूजा-अर्चना की. इसके बाद योगी आदित्यनाथ ने रुद्राभिषेक किया और फिर हवन. हवन के साथ ही सीएम आवास का शुद्धिकरण हो गया. शुद्धिकरण के बाद सीएम योगी अपने सरकारी आवास के कमरे में गए.
 
सोमवार सुबह से ही लखनऊ में 5 कालिदास मार्ग यानी मुख्यमंत्री आवास पर पूजा पाठ और शुद्धिकरण की तैयारी शुरू हो चुकी थी. 
सुबह करीब पौने दस बजे दो स्कॉर्पियो गाड़ी में गोरखनाथ मंदिर के सात पंडित मुख्यमंत्री आवास पहुंचे.
 
पुरोहितों ने पहले सीएम आवास के हर कमरे और परिसर का मुआयना किया फिर वास्तु के हिसाब से पूजा के लिए जगह तय की. कुछ ही देर बाद मुख्यमंत्री आवास के गेट पर स्वास्तिक के चिह्न, ओम और शुभ लाभ लिखे गए. इसके बाद मेन गेट को फूलों से सजाया गया.