नई दिल्ली.  भारत और पाकिस्तान के बीच जंग हुई और पाकिस्तान ने परमाणु बम का इस्तेमाल किया तो क्या होगा? अगर चीन ने भारत के खिलाफ जंग में मिसाइलों का प्रयोग किया तो क्या होगा? ये सवाल सिर्फ सेना और सरकार को ही नहीं.
 
हर हिंदुस्तानी को परेशान करता है. क्योंकि मिसाइल हमले या परमाणु युद्ध की स्थिति में भारी तबाही तय है. तो फिर सवाल है कि ऐसे हालात में भारत अपनी सुरक्षा कैसे करेगा. मोदी सरकार ने अब इसका जवाब भी ढूंढ लिया है. 
 
हवा में दनादन छूटती ये मिसाइलें किसी भी टार्गेट को तबाह करने के लिए काफी हैं. देखिए एक के बाद एक फायर होती मिसाइलें कैसे आसमान का सीना चीरते हुए अपने लक्ष्य की ओर बढ़ रही हैं. चाहे बर्फिस्तान हो या रेगिस्तान. पहाड़ी इलाका हो या बियाबान मैदान. ये मिसाइल सिस्टम जहां भी तैनात हो गया. समझो बड़े से बड़े दुश्मन का काम तमाम हो गया.
 
ये दुनिया का बेहतरीन मिसाइल डिफेंस सिस्टम है. जो दुश्मन के लिए जितना खतरनाक है. सेल्फ डिफेंस के लिए उतना ही ज्यादा भरोसमंद. कहने का मतलब ये कि जितनी तेजी से ये किसी भी टार्गेट को तबाह कर सकता है. उतनी ही मुस्तैदी से ये दुश्मन के किसी भी मिसाइल अटैक को बरबाद कर सकता है.
 
दुनिया में सबसे अव्वल दर्जे का माना जाने वाला ये मिसाइल डिफेंस सिस्टम अब हिंदुस्तान के दुश्मनों का दिल दहलाएगा. ये न सिर्फ चीन और पाकिस्तान जैसे देशों के मिसाइल हमले का मुकम्मिल जवाब देगा. बल्कि सरहद पार से होने वाले किसी भी आक्रमण की सूरत में देश के लिए ढाल बन जाएगा.
 
ये है रूस का अत्याधुनिक एंटी मिसाइल डिफेंस सिस्टम S-400 इसके बारे में ज्यादा बताने की जरूरत नहीं बस इतना समझ लीजिए कि रूस के जिस घातक योद्धा ने सीरिया युद्ध में अकेले ही दुश्मन ताकतों को तहस नहस करके रख दिया वो रूस का यही एंटी मिसाइल डिफेंस सिस्टम है – एस-400
 
अब ये भी जान लीजिए कि हम ऐसा क्यों कह रहे हैं कि ये महायोद्धा सरहद पर चीन और पाकिस्तान की बोलती बंद कर देगा. दरअसल अब चीन और पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब देने के लिए भारत में ऐसे ऐसे एक दो नहीं बल्कि पूरे पांच एंटी मिसाइल डिफेंस सिस्टम तैनात किए जाएंगे. इनमें से तीन मिसाइल डिफेंस सिस्टम पाकिस्तान को जवाब देंगे.जबकि दो मिसाइल सिस्टम चीन के हमले को नाकाम करेंगे.
 
आप सोच रहे होंगे कि चीन और पाकिस्तान जैसे ताकतवर देशों के मिसाइल हमले के खिलाफ ये पांच मिसाइल डिफेंस सिस्टम क्या कर लेंगे.. तो इस सवाल का जवाब लेने से पहले जरा इस रूसी महायोद्धा के ताबड़तोड़ वार का ये वीडियो देख लीजिए.