नई दिल्ली. ऐसा आप शायद पहली बार ही आज सुन रहे हैं कि किसी गांव के लोगों को सोने से भी डर लगता है. अब आप ये भी सोच रहे होंगे कि ये भला कैसे हो सकता है. तो चलिए हम आपको बताते हैं और दिखाते भी हैं कि ऐसा भी होता है. यहां के लोग चलते-चलते ही सो जाते हैं.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
कजाकिस्तान में एक गांव का नाम ‘कालाची’ है. इस गांव के लोग सोने से डरते हैं, क्योंकि यहां किसी भी वक्त, किसी को और कहीं भी नींद आ सकती है, वह भी दो दिनों से ज्यादा के लिए. इसके शिकार केवल इंसान ही नहीं, बल्कि पशु-पक्षी भी हैं. गांव के लोग 2013 से इससे परेशान हैं.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
सबसे हैरान करने वाली बात यह है कि जो सोकर उठता है उसकी याद्दाश्त चली जाती है. सोकर जगने के बाद उसे कुछ याद भी नहीं रहता है और यदि कुछ रहता भी है तो वह या तो भविष्य की बात करता है या फिर अपने अतित की. इंडिया न्यूज के खास शो नीला चांद में देखिए इस गांव का रहस्य.