नई दिल्ली. अमेरिका के तर्ज पर बनी है भारत की स्वात कमांडोज की टीम, किसी भी हालत से निपटने में माहिर है. दिल्ली पुलिस के स्वात कमांडो मतलब सुरक्षा की गारंटी दिलाते है. स्वात कमांडो की ट्रेनिंग बेहद कठिन होती है. ये कमांडो फोर्स किसी भी हालात में दुश्मन का खात्मा करने के लिए ट्रेंड होते हैं. ट्रेनिंग के दौरान इन्हें कई पड़ावों से गुजरना होता है.
 
इसमें इन्हें हवा में, पानी में और जंगल में घात लगाकर मार करने की तकनीक सिखाई जाती है. आधुनिक हथियारों से लैस ये कमांडो रात के अंधेरे में भी दुश्मन को पहचान उनका खात्मा करने के लिए ट्रेंड होते हैं.
 
इस फोर्स के अलावा भारत के मार्कोस, गरुड़, कोबरा जैसी फोर्सेस के कमांडोज की गिनती दुनिया के बेस्ट कमांडोज में होती है. आतंकियों और नक्सलियों से निपटने के लिए तैयार किया जाता है. बता दें कि 2008 में मुंबई हमले के बाद दिल्ली पुलिस के स्वात कमांडोज का गठन किया गया.
 
दिल्ली स्वात टीम
करीब आधा दर्जन कमांडो वाली इन टीमों को नार्थ दिल्ली व सेंट्रल दिल्ली के इलाकों में तैनात किया गया है. दिल्ली में बढ़ते अपराध और अलर्ट को लेकर पुलिस कमिश्नर ने सभी जिला पुलिस उपायुक्तों को खास निर्देश जारी करते हुए दिल्ली के सभी सार्वजनिक जगहों पर स्वात टीम को तैनात किया गया है. इंडिया न्यूज के शो पराक्रम में देखिए अमेरिका के तर्ज पर बनी है भारत की स्वात कमांडोज की टीम की ट्रेनिंग.
 
वीडियो में देखें पूरा शो