नई दिल्ली. यूक्रेन में बना दुनिया का सबसे बड़ा कार्गो प्लेन एंटोनोवएन-225 मिरिया गुरूवार रात हैदराबाद के इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर उतरा. कार्गो प्लेन ‘एंटोनोवएन-225 मिरिया’ अपनी पहली कमर्शियल फ्लाइट के लिए मंगलवार को कीव से रवाना हो गया था. कार्गो तुर्कमेनिस्तान से होता हुआ भारत आया है और अगले रविवार को प्लेन ऑस्ट्रेलिया के पर्थ में लैंड करेगा. 
 
क्या है खासियत
प्लेन में 117 टन वजनी इलेक्ट्रिक जनरेटर है. कार्गो एक बार में करीब 640 टन सामान ले जा सकता है. साथ ही ये प्लेन बिना रिफ्यूलिंग के 18 घंटे तक बिना रुके उड़ान भर सकता है. इस प्लेन में छह इंजन भी लगे हैं. प्लेन को ऑस्ट्रेलिया की माइनिंग कंपनी को डिलीवर किया जाना है. कीव से पर्थ की जर्नी में भारी वजन के कारण प्लेन तुर्कमेनिस्तान, भारत और मलेशिया में रुककर ईधन भरेगा और इस जर्नी के दौरान प्लेन भारत के हैदराबाद में भी रुकेगा.
 
नासा भी कर चुका है यूज
80 के दशक में डिजाइन किए गए इस कार्गो का लंबे वक्त तक सोवियत आर्मी ने यूज किया था. नासा ने इसका इस्तेमाल स्पेसशिप ले जाने के लिए किया था.
 
(वीडियो में देखें पूरा शो)