नई दिल्ली. कुछ घटनाएं ऐसी होती हैं जो रहस्यों का पिटारा खोल देती हैं. इन रहस्यों को लेकर इंसान से विज्ञान तक हर कोई जवाब खोजता है. दुनिया भर में उड़न तश्तरी और एलियंस देखने या उनकी मौजूदगी महसूस करने का दावा किया जाता है. विज्ञान भी इसके आगे एक सीमा के बाद जवाब नहीं दे पाता. आज हम आपको बताएंगे समुंद्र और एलियन का क्या कनेक्शन है और क्या समंदर के अंदर है एलियंस का गुप्त ठिकाना है. 
 
समंदर में छिपा है दूसरी दुनिया का राज
अंतरिक्ष में ऐसे कई और गृह हैं जहां इंसानों जैसे समझदार जीव रहते हैं. वो ना सिर्फ विज्ञान के मामले में इंसानों से बहुत आगे हैं बल्कि वो सदियों से पृथ्वी पर आते जाते भी रहे हैं और यूएफओ देखने के जितने भी मामले हैं वो इसी सब का सबूत हैं. ज्यादातर रिसर्चर्स यही मानते हैं कि एलियन अंतरिक्ष से आते हैं, लेकिन कुछ एलियन रिसर्चर्स ऐसे भी हैं जिनका दावा बिल्कुल उलटा है. ये कहते हैं कि एलियंस अंतरिक्ष से भले ही आए हों लेकिन इसी धरती पर वो अपनी एक अलग दुनिया बसा चुके हैं. एक ऐसी दुनिया जो ज़मीन पर नहीं बल्कि पानी के नीचे बसी है.
 
आज तक ऐसी तकनीक नहीं बनी
पोर्टो रिको के समंदर के किनारे से 120 किमी दूर विमानवाही पोत USS वॉस्प के नेत्रित्व में एंटी सब्मरीन मैन्यूवर की ट्रेनिंग कर रहे अमेरिकी नौसेना के एक बेड़े को वहां एक अंजान वस्तु के संकेत मिले जो पास में ही कहीं घूम रहा था. चार दिनों तक वो उसकी तलाश करते रहे पर सिर्फ इतना जान पाए कि वो चीज़ जो भी थी समंदर में 270 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से चल रही थी. ये एक बड़ा सच है कि 1993 तो छोड़िये आज भी दुनिया में ऐसी कोई नाव या बोट नहीं है जो पानी के भीतर 270 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से चल सके. यानी ऐसी कोई तकनीक अभी तक खोजी ही नहीं जा सकी है और हैरत तो ये भी है कि बाद में वो रहस्यमय चीज़ पानी में 8000 मीटर की हैरतअंगेज गहराई तक चली गई.  
 
इंडिया न्यूज के खास शो ‘नीला चांद‘ में देखिए दूसरे ग्रह के लोगों ने समुद्र में बनाया कनेक्शन ?  
 
वीडियो पर क्लिक करके देखिए पूरा शो