काठमांडू. नेपाल में सेना ने चार महीने के बच्चे सोनित अवल को मलबे से सुरक्षित बाहर निकाल लिया है. सोनित भूकंप के बाद 22 घंटे तक मलबे में दबा रहा था. नेपाल में 25 अप्रैल 2015 को भारतीय समयानुसार 11 बजकर 41 मिनट पर 7.9 तीव्रता का भूंकप आया था, जिसका केंद्र नेपाल में पोखरा में था. आईएमडी के मुताबिक नेपाल तब से अबतक तकरीबन 70 से अधिक भूकंप के झटके झेल चुका है. भूकंप से नेपाल में अबतक 5000 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 9500 के करीब लोग घायल हो चुकें है.