काठमांडू. नेपाल में आए विनाशकारी भूकंप में 39 जिलों में 80 लाख लोग प्रभावित हुए हैं.  संयुक्त राष्ट्र के मुताबिक इनमें से 11 सर्वाधिक प्रभावित जिलों में अकेले 20 लाख लोग प्रभावित हुए हैं. संयुक्त राष्ट्र ने कहा है कि राहत कार्य में भूकंप पीड़ितों को भोजन, पानी, आश्रय और दवाएं उपलब्ध करवाना सर्वोच्च प्राथमिकता है. संयुक्त राष्ट्र के अनुसार, 14 लाख लोगों तक तत्काल खाद्य सामग्री पहुंचाने की जरूरत है.

नेपाल में शनिवार को आए 7.9 तीव्रता वाले भूकंप में राजधानी काठमांडू और उसके आसपास का इलाका सर्वाधिक प्रभावित हुआ है तथा भूकंप से प्रभावित कुल आबादी का तीन-चौथाई हिस्सा काठमांडू से बाहर का है. नेपाल में आए भूकंप में करीब 50,000 गर्भवती महिलाओं के प्रभावित होने का अनुमान है. संयुक्त राष्ट्र जनसंख्या कोष (यूएनएफपीए)के शुरुआती अनुमान के मुताबिक, 50,000 गर्भवती महिलाएं भूकंप प्रभावितों नेपाल में बच निकलने वालों में हो सकती हैं, जहां 4,347 लोगों की जान भूकंप ने लील ली है. संयुक्त राष्ट्र ने कहा है कि अगले 10 दिनों में बारिश हो सकती है जिससे बचाव और राहत कार्यों में बाधा आ सकती है.